प्रकृति बनेंगी ITBP की पहली महिला कॉम्बैट ऑफिसर, भारत-चीन सरहद पर होंगी तैनात

Advertisements

नई दिल्लीः भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) में 25 साल की प्रकृति राय ऐसी पहली अधिकारी हैं जो लड़ाई के मोर्चे पर महिला असिस्टेंट कमांडेंट कॉम्बैट ड्यूटी बनने जा रही हैं। भारत-चीन सरहद पर महिला जवानों की तैनाती तो होती है लेकिन अधिकारियों की तैनाती नहीं होती। लेकिन प्रकृति ऐसी पहली महिला अधिकारी होंगी जो कि भारत-चीन सरहद पर तैनात होंगी। प्रकृति की तैनाती नाथू ला दर्रे के उस इलाके में हो रही है जहां सालभर पारा शून्य से नीचे रहता है।

तैनाती से पहले प्रकृति मसूरी में कॉम्बैट ट्रेनिंग की खास तकनीक सीखेगी। उनकी उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में  ट्रेनिंग चल रही है। गृह मंत्रालय ने पहली बार आईटीबीपी में महिलाओं को कॉम्बैट ऑफिसर बनाने का निर्णय लिया जिसके बाद प्रकृति ने यूपीएससी की पहली परीक्षा पास कर ली। प्रकृति ने खुद ही अपनी सर्विस के लिए उसी आईटीबीपी को चुना, जो भारत-चीन सरहद की निगरानी करता है। उन्होंने UPSC को इसका विकल्प दिया था। सूत्रों के मुताबिक फरवरी या मार्च में प्रकृति की तैनाती इलाके में हो सकती है।

इसे भी पढ़ें-  Lokayukta Raid: लोकायुक्‍त टीम ने पंचायत समन्वयक अधिकारी ओमप्रकाश राठौर को रिश्‍वत लेते पकड़ा
Advertisements