आगरा: आंधी-तूफान में 15 की मौत, ताजमहल की दो पिलर धराशाई

Advertisements

आगरा। बुधवार देर शाम आई आंधी-तूफान और ओलावृष्टि में ब्रज क्षेत्र में 15 लोगों की मौत हो गई, वहीं 24 से ज्यादा लोग घायल हो गए. आंधी-तूफान ने पूरे मंडल में जमकर तबाही मचाई. भयंकर तूफान और आंधी का असर ताजमहल पर भी देखने को मिला. ताजमहल के प्रवेशद्वार के दो गुलदस्ता पिलर धाराशाई हो गए. भीमनगरी का मंच भी गिर गया. शाहगंज में मस्जिद की मीनार भी गिरी.

रिपोर्ट के मुताबिक भयंकर आंधी-तूफ़ान में करीब 35 मिलीमीटर बारिश हुई और 40 मिनट तक ओले गिरते रहे. भयंकर तूफान से शहर से लेकर 6देहात तक सैकड़ों पेड़, होर्डिंग, टीनशेड, खंभे उखड़ गए. कई जगह मकान और दीवारें ढह गईं. आगरा आठ, मथुरा में चार और फिरोजाबाद में लोगों की मौत हो गई.

इसे भी पढ़ें-  LIVE Punjab Congress News : कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने दिया इस्‍तीफा, मीडिया से कहा मैंने अपमानित महसूस किया

प्रेम की अमर निशानी ताजमहल के दो गेटों की मीनारें गिरने के साथ मुख्य स्मारक को भी नुकसान पहुंचा है. तूफान में दो दर्जन से अधिक लोग जख्मी हुए हैं. बवंडर में करोड़ों रुपए की हानि की भी सूचना है. वहीं, कई इलाके पानी में डूब गए. गेहूं की 80 फीसदी तक फसल नष्ट हो गई.

आगरा मंडल में शाम 7.30 बजे के करीब एकाएक बिजली गड़गड़ाने के साथ काले बादल घिरने लगे. तूफान इतना तेज था कि चंद पलों में रौद्र रूप धारण कर लिया. लोग संभल पाते, तब तक ओलावृष्टि और भारी बारिश होने लगी. चंद मिनट में ही बवंडर पूरे ब्रज में फैल गया.

Advertisements