10 अप्रैल को संभावित आंदोलन के लिए सभी जिलों को अलर्ट रहने के निर्देश

Advertisements

भोपाल। पिछले दिनों एससी-एसटी वर्ग के भारत बंद में प्रदेश में हुई भारी हिंसा से सबक लेते हुए पुलिस मुख्यालय ने अब 10 अप्रैल को संभावित आंदोलन को देखते हुए सभी जिलों को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं।

पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के एसपी से कहा है कि पुलिस जिलों में सतर्क रहें। गौरतलब है कि एससी-एसटी वर्ग के आंदोलन के बाद से ही 10 अप्रैल को सवर्ण और ओबीसी समाज द्वारा बंद का संदेश सोशल मीडिया पर चल रहा है।

नहीं हो सकी राजा चौहान की गिरफ्तारी

आईजी लॉ एंड ऑर्डर मकरंद देउस्कर ने बताया कि ग्वालियर में फायरिंग करते हुए देखे गए राजा चौहान की अभी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। भिंड, मुरैना में पिछले कई दिनों से लगे कर्फ्यू में गुस्र्वार को कुछ घंटों की ढील दी गई है। प्रदेश में पिछले दिनों हुई हिंसा में करीब 141 प्रकरण दर्ज किए गए हैं, जिसके तहत 361 गिरफ्तारी हुई है।

इसे भी पढ़ें-  Indore Accident News: इंदौर के बड़गोंदा थाना क्षेत्र में बड़ा हादसा, कार पलटने से तीन की मौत

उन्होंने बताया कि गुना, दतिया, अशोक नगर, इंदौर, सागर, बालाघाट और मंडला में भी कुछ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

ग्वालियर में इंटरनेट सर्विस बहाल की जा रही है, हालांकि कर्फ्यू पूरी तरह से नहीं हटाया जा रहा है। आंदोलन के दौरान वीडियो में जो लोग हथियार लेकर दिखाई दे रहे हैं, उनकी तलाश की जा रही है। देउस्कर ने कहा कि पिछले दिनों जहां-जहां हिंसा हुई थी, सभी जगह अब स्थिति नियंत्रण में है।

Advertisements