MP सरकार का आदेश: गर्मी को देखते कलेक्टर बदल सकेंगे स्कूलों की टाइमिंग

Advertisements

भोपाल। तेज गर्मी और लपट की स्थिति को देखते हुए कलेक्टर स्थानीय स्तर पर स्कूलों का समय परिवर्तन कर सकेंगे। यह निर्देश राज्य शासन ने मंगलवार को जारी कर दिए हैं। वहीं दो पाली में संचालित होने वाले स्कूलों में पहली पाली में पहली से आठवीं तक की कक्षाएं लगाने को कहा है।

इस बार से सरकारी स्कूलों का शैक्षणिक सत्र भी अप्रैल से शुरू हो गया है। इस परिवर्तन को देखते हुए शासन ने पहले से कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं। शासन ने कहा है कि अप्रैल में तेज गर्मी और लपट की आशंका रहती है। इस स्थिति में कलेक्टर स्थानीय परिस्थितियों को देखते हुए स्कूल का समय परिवर्तित करने का निर्णय ले सकेंगे।

इसे भी पढ़ें-  Corona vaccination: बुजुर्गों और दिव्यांगों के आने-जाने की व्यवस्था सरकार करेगी: मुख्यमंत्री

वहीं आकस्मिक परिस्थिति निर्मित होने पर स्कूलों में छुट्टी भी घोषित कर सकेंगे। मालूम हो पिछले चार साल से यह व्यवस्था है कि कलेक्टर अपनी मर्जी से स्कूलों का समय परिवर्तन और छुट्टी नहीं कर सकते हैं। उन्हें इसके लिए पहले शासन से अनुमति लेना होती है। अनुमति लेने में कई बार ज्यादा समय लग जाता है। इसे देखते हुए शासन ने निर्देश जारी किए हैं।

Advertisements