शिवराज बोले-ई अटेंडेंस व्यवस्था लागू नहीं होगी, इससे शिक्षकों को अपमानित होना पड़ रहा था

Advertisements

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने अपने निवास पर आयोजित कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधियों से मिले। कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि इसी महीने संविदा कर्मचारियों की महापंचायत बुलाएंगे। संव‍िदा कर्मचारियों को लेकर नीति की घोषणा इसी महीने होगी। निगम मंडल के कर्मचारियों को भी 62 वर्ष की सेवानिवृत्ति पर फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा कि 2 अप्रैल से ई अटेंडेंस व्यवस्था लागू नहीं होगी। इससे शिक्षकों को अपमानित होना पड़ रहा था।

सीएम ने कहा – प्रदेश में पटवारियों के 9 हजार पदों के लिए परीक्षा हो गई है। अभी 31 हजार सहायक शिक्षक, शिक्षक, व्याख्याता की भर्ती के लिए अप्रैल के अंत में विज्ञप्ति जारी की जाएगी। इसके बाद 31 हजार और शिक्षकों की भर्ती की जाएगी। प्रदेश में 1800 डॉक्टर और 2500 एएनएम और स्टाफ अलग से, 14 हजार आरक्षक की नियुक्ति के आदेश जारी होंगे और नए 8 हजार आरक्षकों की नियुक्ति के लिए विज्ञप्ति जारी की जाएगी।

इसे भी पढ़ें-  MP Teachers News: चयनित शिक्षकों की नियुक्ति के लिए हलचल तेज

पुलिस सब इंस्पेक्टर, नायब तहसीलदार ये सारे पद मिलाकर लगभग 1 लाख युवाओं की भर्ती की जाएगी। और मैं देख रहा हूं कि और कहां-कहां भर्तियां हो सकती हैं। एक तरफ रोजगार देने के लिए ये पद निकलेंगे, वहीं दूसरी तरफ साढ़े 7 लाख युवाओं को हर साल ट्रेनिंग देकर स्वरोजगार से जोड़ेंगे। संविदा की व्यवस्था अन्यायपूर्ण है। मैं शोषण की इस व्यवस्था को समाप्त करने के लिए संकल्पित हूं।

सीएम ने कहा- 60 से 62 वर्ष में सेवानिवृत्ति के निर्णय से युवाओं के अवसर पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। जितने पद की ज़रूरत होगी, उन पर अलग से नियुक्ति की जाएगी। कार्यरत कर्मचारियों की सेवा अवधि बढ़ने से न युवाओं का हक मारा जाएगा और न युवाओं की भर्ती से कर्मचारियों पर प्रभाव पड़ेगा।

Advertisements