उमा ने साधा कांग्रेस पर निशाना कहा-बापू की समाधि पर लिखा “हे राम” हटा कर दिखाएं

Advertisements
सागर। बाबा साहब भीम राव आंबेडकर के नाम के साथ रामजी जोड़े जाने का विवाद लगातार बढ़ता जा रहा है। यूपी सरकार द्वारा आंबेडकर के नाम में परिवर्तन किए जाने का मायावती, ममता बनर्जी ओर सोनिया गांधी ने विरोध करते हुए एतराज जताया है। वहीं शुक्रवार को मध्यप्रदेश के सागर में पत्रकारों का जवाब देते हुए पलटवार किया। उन्होंने कहा कि राम के नाम पर राजनीति करना कांग्रेस और बसपा की प्रकृति की है। दोनों पार्टियों पर उन्होंने बाबा साहब के पिता का नाम छिपाने का आरोप लगाया हुए पलटवार किया कि मायावती की मां का नाम भी राम रती है। फिर भी पता नहीं क्यों उन्हें राम नाम से इतनी चिढ़ है।
कांग्रेस पर बोला बड़ा हमला
उमा भारती सर्किट हाउस पहुँची जहाँ उन्होंने मीडिया से बात करते हुए बसपा और कांग्रेस पर राम के नाम पर राजनीती करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा की भीमराव आंबेडकर के पिता का नाम रामजी था। इस बात को कांग्रेस व बसपा ने छिपा कर रखा। उन्होंने इस पर भी घोर राजनीति की है और में इस बात की निंदा करती हैं। उमाभारती ने आरोप लगाया कि यह नाम इसलिए छिपा कर रखा गया, क्योंकि उनके पिता के साथ राम लिखा हुआ था। अगर मायावती, ममता और सोनिया को यह लगता है की राम के नाम से राजनीति है तो महात्मा गांधी की समाधि पर भी हे राम लिखा हुआ है। वो उसे मिटा कर दिखाएँ। राम के नाम पर राजनीति करना ये कांग्रेस की प्रकृति है। बसपा की प्राकृति है। में इसकी घोर निंदा करती हूँ।
Advertisements

इसे भी पढ़ें-  New Wage Code: 1 अक्टूबर से कम हो जाएगी सैलरी, छुट्टियां बढ़कर होंगी 300, जानें सरकार की नई योजना