Advertisements

भारत में कुल 4.13 लाख भिखारी, यहां हैं सबसे ज्यादा

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने देश में भिखारियों की संख्या का आंकड़ा जारी किया है। लोकसभा में पेश रिपोर्ट के मुताबिक भारत में कुल 4,13,760 भिखारी हैं जिनमें 2,21,673 भिखारी पुरुष और 1,91, 997महिलाएं हैं।

लोकसभा में सामाजिक कल्याण मंत्री थावरचंद गहलोत ने यह डाटा पेश किया। इसके मुताबिक, भिखारियों की संख्या में पश्चिम बंगाल पहले पायदान पर है। दूसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश और बिहार तीसरे नंबर पर है।

सबसे कम भिखारियों की संख्या लक्षद्वीप में है। यहां केवल 2 भिखारी हैं। मणिपुर और पश्चिम बंगाल में महिला भिखारियों की संख्या पुरुषों से ज्यादा है।

जानिए मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ का हाल

मध्यप्रदेश में कुल 28,695 भिखारी हैं, जिनमें से 17,506 पुरुष और 11,189 महिलाएं हैं। वहीं छत्तीसगढ़ में भिखारियों का कुल आंकड़ा 10,198 है। इनमें 4995 पुरुष और 5203 महिलाए हैं।

आंकड़ों के हिसाब से भिखारियों की संख्या के लिहाज से पूर्वोत्तर के राज्यों की स्थिति काफी अच्छी है। पूर्वोत्तर के राज्यों में भिखारियों की संख्या बहुत कम है। अरुणाचल प्रदेश में सिर्फ 114 भिखारी हैं, नगालैंड में 124 और मिजोरम में सिर्फ 53 भिखारी ही हैं। संघ शासित प्रदेश दमन और दीव में 22 भिखारी हैं तो लक्षद्वीप में सिर्फ 2 ही भिखारी हैं।

भिखारियों की संख्या: भारत के टॉप 8 राज्य

इन 10 राज्यों में सबसे कम भिखारी

Loading...