2000 रुपए का नोट नहीं होगा बंद, 5 शहरों में चलेंगे 10 के प्लास्टिक नोट

नई दिल्ली। भारत में नोटबंदी के बाद जारी किए गए 2000 रुपए के नोट को बंद करने का कोई प्रस्ताव नहीं है। यह जानकारी वित्त राज्य मंत्री पी राधाकृष्णन ने लोकसभा में लिखित सवाल के जवाब में दी है। उन्होंने यह भी बताया कि सरकार 10 रुपए के प्लास्टिक नोट का पांच शहरों में फील्ड ट्रायल भी करेगी।

वित्त राज्य मंत्री पी राधाकृष्णन से जब यह पूछा गया कि क्या सरकार का भविष्य में 2000 रुपए के नोट को बंद करने की कोई योजना है तो उन्होंने बताया कि फिलहाल सरकार 2000 रुपए के नोट को बंद करने के प्रस्ताव पर कोई विचार नहीं कर रही है।

जानकारी के लिए बता दें कि नए महात्मा गांधी सीरीज के 500 रुपए के नोट का आकार 66mmX150mm और 2000 रुपए के नोट का 66mmX166mm का है। दोनों नोट के आकर में 10mm का अंतर हैं जो कि देखने में आसानी से पता चल जाता है।

गौरतलब है कि सरकार ने आठ नवंबर, 2016 को देश में कालेधन पर रोकथाम और डिजिटल इकोनॉमी को बूस्ट करने के लिए पुराने 500 रुपए और 1000 रुपए के नोटों को बैन कर दिया था।

प्लास्टिक नोट के संदर्भ में राधाकृष्णन ने बताया कि देश में सरकार ने पांच जगहों पर प्लास्टिक बैंक नोट्स का फील्ड ट्रायल करने का फैसला लिया है। फील्ड ट्रायल के लिए चुने गए शहर कोच्चि, मैसूर, जयपुर, शिमला और भुवनेश्वर हैं।