पांच रुपए प्रति लीटर तक कम हो सकते हैं पेट्रोल और डीजल के दाम

Advertisements

नई दिल्ली। पेट्रोल-डीजल की बढ़ी हुई कीमतों को लेकर कई दिनों से आलोचना झेल रही मोदी सरकार ने चार अक्टूबर से पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों को कम करने के लिए अहम कदम उठाया है। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर लगने वाली बेसिक एक्साइज ड्यूटी को प्रति लीटर 2 रुपए कम कर दिया है।

यह जानकारी वित्त मंत्रालय ने मंगलवार शाम को एक ट्वीट करके दी है। इतना ही नहीं, केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से कहा है कि वे भी पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले अपने वैल्यू ऐडेड टैक्स की समीक्षा करें। इसके अलावा ऑयल मार्केटिंग कंपनियों से भी कीमतों की समीक्षा करने के लिए कहा गया है।

इसे भी पढ़ें-  Transfer: अधिकारी कर्मचारी के ट्रांसफर पर बड़ा फर्जीवाड़े का खुलासा, क्राइम ब्रांच ने शुरू की जांच 

माना जा रहा है कि राज्य सरकारें पेट्रोल-डीजल पर दो रुपए प्रति लीटर वैट की कमी कर सकते हैं और तेल विपणन कंपनियां एक रुपए प्रति लीटर की कटौती कर सकती हैं। इस तरह से उपभोक्ताओं को करीब पांच रुपए प्रति लीटर का फायदा हो सकता है। एक अधिकारी ने बताया कि पेट्रोल और डीजल में चार से पांच रुपए प्रति लीटर की कटौती करने की जरूरत है।

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) के डायरेक्टर फायनेंस एके शर्मा ने इस क्षेत्र में हो रहे नवीनतम घटनाक्रम के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि हम ग्राहकों को पूरा लाभ दे रहे हैं। यह जनता के लिए राहत है। उन्होंने कहा कि सरकार ने जनता के हित में सही फैसला किया है और जहां तक ग्राहक को लाभ देने की बात है, तो हम सरकार के साथ हैं।

Advertisements