Advertisements

“लकी पिंक जर्सी” पहनकर उतरेगी अफ्रीकी टीम, भारत की नजरें ऐतिहासिक जीत पर

जोहानिसबर्गः जीत के अश्वमेधी रथ पर सवार भारतीय टीम आज यहां दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चौथे वनडे के जरिए श्रृंखला में ऐतिहासिक जीत दर्ज करने उतरेगी जबकि मेजबान का इरादा प्रतिष्ठा बचाने का होगा । श्रृंखला में 3-0 की बढत बनाने के बाद भारत को अब दक्षिण अफ्रीकी सरजमीं पर पहली वनडे श्रृंखला जीतने के लिए सिर्फ एक और जीत की जरूरत है । इससे पहले 2010-11 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में उसने 2-1 से बढत बनाई थी लेकिन श्रृंखला 3-2 से हार गई।

डिविलियर्स की हो सकती है वापसी 
भारत ने न्यूलैंड्स में जीत के साथ ही 1992-93 के बाद दक्षिण अफ्रीका में द्विपक्षीय वनडे श्रृंखला में पहली बार तीन मैच जीते । अब चौथा मैच जीतकर भारत आईसीसी वनडे रैकिंग में नंबर वन पर अपनी स्थिति पुख्ता करना चाहेगा । वहीं दक्षिण अफ्रीका के लिए राहत की बात एबी डिविलियर्स की वापसी है तो बाकी तीन मैच खेलेंगे । ऊंगली की चोट के कारण वह पहले तीन मैच नहीं खेल सके थे । डिविलियर्स का आज दोपहर फिटनेस टेस्ट होगा और उनकी उपलब्धता के बारे में तभी फैसला लिया जाएगा । यदि वह खेलते हैं तो तीसरे नंबर पर उतरेंगे और जेपी डुमिनी चौथे नंबर पर खिसक जाएंगे । ऐसे में डेविड मिलर या खाया जोंडो में से एक को बाहर रहना होगा । एडेन मार्करेम टीम की कप्तानी करते रहेंगे । यह पिंक वनडे होगा जो स्तन कैंसर के लिये जागरूकता जगाने के मकसद से खेला जा रहा है । पहली बार इसका आयोजन 2011 में हुआ और छठी बार खेला जा रहा है । दक्षिण अफ्रीका ने पिंक जर्सी में खेलते हुए एक भी मैच नहीं गंवाया है ।

रोहित का फेल होना टीम के लिए चिंता
डिविलियर्स ने 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 44 गेंद में 149 रन बनाये थे । इससे पहले 2013 में भारत के खिलाफ 47 गेंदों में 77 रन बनाये थे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लगातार 11वें वनडे में रोहित शर्मा खराब फार्म से जूझते दिखे हैं । उनका दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पिछले 11 मैचों में औसत 12.10 है और भारतीय टीम प्रबंधन के लिये यह चिंता का सबब होगा ।  भारत का इस मैदान पर औसत रिकार्ड रहा है । यहां सात वनडे में से भारत ने तीन जीते और चार गंवाये । इसमें 2003 विश्व कप फाइनल में आस्ट्रेलिया से मिली हार शामिल है । यहां दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जनवरी 2011 में भारत ने जीत दर्ज की थी जब मुनाफ पटेल के चार विकेट की मदद से भारत ने एक रन से रोमांचक जीत हासिल की थी ।

टीमें :
भारत : विराट कोहली ( कप्तान ), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, एम एस धोनी, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, शरदुल ठाकुर ।

दक्षिण अफ्रीका : एडेन मार्करेम ( कप्तान ), हाशिम अमला, जेपी डुमिनी, इमरान ताहिर, डेविड मिलर, मोर्नी मोर्कल, क्रिस मौरिस, एल एंगिडि, एंडिले पी, कागिसो रबाडा, तबरेज शम्सी, के जोंडो, फरहान बेहार्डियन, हेनरिच क्लासेन , एबी डिविलियर्स ।

Hide Related Posts