महाशिवरात्र‍ि पर सुहागन महिलाएं करें ये 5 काम, मिलेगा पति की लंबी उम्र का वरदान

Advertisements

धर्म डेस्‍क।महाशिवरात्र‍ि का पर्व गृहस्थ जीवन बिताने वालों के लिए भी व‍िशेष स्‍थान रखता है.  दरअसल, महाशिवरात्र‍ि को शिव जी और पार्वती की विवाह वर्षगांठ के रूप में भी मनाते हैं. बताया जाता है कि अगर व‍िवाहित महिलाएं पूरी व‍िध‍ि के साथ इस द‍िन भगवान श‍िव की पूजा करें तो उनको पति की लंबी उम्र का वरदन मिलता है. यूं तो भगवान श‍िव की पूजा कुंवारी कन्‍याएं भी करती हैं. लेकिन व‍िवाहित मह‍िलाएं अगर भगवान श‍िव की पूजा महाशिवरात्रि पर करें तो इसका फल वे पति के लिए भी पा सकती हैं।  जानें इस वरदान के लिए क्‍या करना चाह‍िए।

yashbharat

1. श‍िवरात्रि का व्रत देगा फल 
सुहागिन महिलाएं अगर श‍िवरात्रि के दिन व्रत रखें तो इससे महादेव प्रसन्‍न होते हैं.  इस व्रत के दौरान फलाहार रहें और श‍िव जी को उनकी पसंद की चीजें भेंट कर पूजन करें.

2. शि‍व जी का व‍िध‍िवत अभ‍िषेक करें 
श‍िवरात्रि के दिन दूध, दही और जल से भगवान शंकर का अभ‍िषेक करने से भोलेदान का आशीर्वाद मिलता है. बताया जाता है कि यह अभ‍िषेक भी अपनी राश‍ि के अनुसार करना चाहिए.  अत: आप इस व‍िधि को पहले जरूर जानें।

3. ऊँ नम: श‍िवाय का जाप करें
श‍िवरात्रि के दिन ऊँ नम: श‍िवाय का जाप आपका जीवन सुखमय बना सकता है.  पति की लम्बी आयु के लिए इस मंत्र का 5 माला जाप करें।  महादेव प्रसन्‍न होकर मनोकामनाएं पूर्ण होने का वर देंगे।

4. करें 4 पहर की रात्र‍ि पूजा 
श‍िवरात्रि में रात के पूजन का महत्व ज्यादा है. अगर आप दिन में पूजा नहीं कर पाती हैं तो भी आप रात के चार पहर शि‍व की पूजा कर सौभाग्यवती होने का वरदान पा सकती हैं।
रात्रि के समय भगवान शिव का पूजन एक से चार बार किया जाता है.  यह भक्तों पर निर्भर करता है कि वे किस तरह महादेव की पूजा करना चाहते हैं।

यहां जानें समय 
रात्रि पहले प्रहर पूजा का समय : शाम 18:05 से 21:20 तक
रात के दूसरा प्रहर में पूजा का समय : रात 21:20 से 00:35 तक
तीसरा प्रहर पूजा का समय = 00:35 से 03:49 तक
चौथा प्रहर पूजा का समय = 03:49 से 07:04 तक

5. करें दान भी 
महाशिवरात्रि का व्रत तोड़ने से पहले गरीबों को भोजन कराएं.  जो भी बनाएं, उसे श्रद्धापूर्वक साफ बर्तन में ख‍िलाएं.  भगवान श‍िव को ऐसे लोग पसंद हैं, जो गरीबों की मदद करते हैं।

Advertisements