Budget 2018: माननीय पर मेहबान PM मोदी

Advertisements

नई दिल्ली: वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को आम बजट पेश करते हुए राष्‍ट्रपति, उपराष्‍ट्रपति और राज्यपाल के वेतन भत्ते में संसोधन की बात भी की। जेटली ने बजट पढ़ते हुए कहा कि राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और राज्यपाल के वेतन में इजाफा होगा।

राष्ट्रपति को 5 लाख, उपराष्ट्रपति को 4 लाख और राज्यपाल को 3 लाख रुपए सैलरी मिलेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि सांसदों के वेतन और भत्ते के लिए 5 साल का सिस्टम लागू होगा।  वित्त मंत्री ने कहा कि सांसदों का वेतन तय करने के लिए नया कानून लाया जाएगा। हर 5 साल में सांसदों के वेतन की समीक्षा होगी। सांसदों के वेतन की समीक्षा की नई व्यवस्था 1 अप्रैल 2018 से लागू होगी। हालांकि सांसदों के वेतन की समीक्षा किन मानकों पर की जाएगी और उसमें कितनी वृद्धि होगी इसके बारे वित्त मंत्री ने कोई जानकारी नहीं दी है।

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: आज मिले 39 पॉजिटिव केस, रविवार को 326 लोगों के लिए गए थे सेम्पल

इससे पहले खबरें आई थीं कि जेटली पहली बार हिंदी में बजट भाषण देने वाले हैं। हालांकि उन्होंने भाषण दोनों भाषाओं में दिए लेकिन खेती-किसानी के बारे में हिंदी में ही उन्होंने अपनी बात रखी।

Advertisements