FEATUREDLatestअंतराष्ट्रीयराष्ट्रीय

26 राफेल-समुद्री लड़ाकू जेट के सौदे पर सहमति के लिए भारत आया फ्रांस का दल

Rafale: 26 राफेल-समुद्री लड़ाकू जेट के सौदे पर सहमति के लिए फ्रांस का दल भारत आया। जुलाई में रक्षा मंत्रालय ने राफेल के नौसेना संस्करण को खरीदने का फैसला किया था। करीबन एक महीने से अधिक समय पहले भारत ने फ्रांस की सरकार को औपचारिक रूप से अनुरोध पत्र भेजकर दसौ एविएशन से विमान खरीदने की सूचना दी थी।

भारत सरकार फ्रांस से नौसेना के लिए राफेल जेट के नौसेना संस्करण के 26 विमान खरीद के क्रम में है। ये लड़ाकू जहाज आईएनएस विक्रांत और आईएनएस विक्रमादित्य पर तैनात किए जाने हैं। भारत ने इस बारे में फ्रांस से वार्ता की थी। अब फ्रांस ने इस सौदे के लिए अपनी प्रतिक्रिया दी है। दोनों देशों के बीच अंतर-सरकारी फ्रेमवर्क के तहत यह सौदा किया जाएगा।

 

रक्षा सूत्रों ने इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि विदेशों में सैन्य बिक्री से जुड़े फ्रांसीसी सरकारी अधिकारियों की एक टीम भारतीय निविदा पर प्रतिक्रिया के लिए पेरिस से दिल्ली आई है। सूत्रों ने यह भी बताया कि अब भारत फ्रांस की बोली की समीक्षा करेगा। फ्रांसीसी बोली में वाणिज्यिक प्रस्ताव या विमान की कीमत के साथ-साथ अनुबंध के अन्य विवरण भी शामिल होंगे।

सूत्रों ने बताया कि जुलाई में रक्षा मंत्रालय ने राफेल के नौसेना संस्करण को खरीदने का फैसला किया था। करीबन एक महीने से अधिक समय पहले भारत ने फ्रांस की सरकार को औपचारिक रूप से अनुरोध पत्र भेजकर दसौ एविएशन से विमान खरीदने की सूचना दी थी।

इस सौदे को लेकर अक्तूबर की शुरुआत में दसौ के अध्यक्ष और सीईओ एरिक ट्रैपियर ने नई दिल्ली का दौरा कर भारत की इस संभावित खरीद के बारे में विचार-विमर्श किया था। इस सौदे का फैसला रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के हालिया पेरिस दौरे पर लिया गया था। गौरतलब है कि भारतीय नौसेना और भारत सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए फास्ट-ट्रैक मोड में काम कर रही हैं कि अधिग्रहण अनुबंध पर जल्द से जल्द हस्ताक्षर किए जाएं।

Related Articles

Back to top button