कटाएघाट क्षेत्र में चोरों का आतंक

कटनी। माधवनगर थाना अंतर्गत कटाएघाट क्षेत्र में चोरों के आतंक से लोग भय व दहशत में हैं। बीतीरात यहां कृष्णधाम कालोनी निवासी नगर निगम इंतीनियर के सूने आवास में धावा बोलकर अज्ञात चोर एक लाख रूपए नगद सहित सोने व चांदी के जेवरात लेकर चंपत हो गए।

ननि इंजीनियर के सूने आवास में चोरी, फिल्टर प्लांट कर्मचारी के यहां चोरी का प्रयास

वहीं कटाएघाट की पहाड़ियों में स्थित फिल्टर प्लांट के एक कर्मचारी के मकान की दीवार में सेंध लगाकर चोरी का प्रयास किया तो दूसरे कर्मचारी के मकान का ताला तोड़कर नगदी व मोबाइल लेकर चंपत हो गए।

लगातार हो रही चोरी की वारदातों से कटाएघाट क्षेत्र में रहने वाले लोगों में भय व दहशत है तथा उन्होने क्षेत्र में रात के समय पुलिस गश्त बढ़ाए जाने की मांग पुलिस अधीक्षक अतुल सिंह से की है। इस संबंध में सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कृष्णधाम कालोनी निवासी व नगर निगम में इंजीनियर के पद पर पदस्थ ललितधर द्विवेदी गतदिवस जब अपने परिवार के साथ किसी कार्यवश दमोह गए हुए थे।

इसे भी पढ़ें-  कार का कांच तोड़कर उड़ाए साढ़े चार लाख, देखें वीडियो

उसीदौरान उनके सूने मकान में अज्ञात चोरों ने धावा बोला और अंदर आलमारी में रखे लगभग एक लाख रूपए नगद सहित सोने व चांदी के जेवरात लेकर चंपत हो गए। दमोह से वापस लौटने पर द्विवेदी परिवार को चोरी की जानकारी लगी।

जिसके बाद इसकी सूचना पुलिस को दी गई। बताया जाता है कि नगर निगम इंजीनियर के साथ ही अमकुही की पहाड़ियों पर स्थित फिल्टर प्लांट कर्मचारी सतुआ आदिवासी के मकान के पीछे से दीवार में सेंध लगाकर चोरी का प्रयास किया गया।

उधर फिल्टर प्लांट के एक अन्य कर्मचारी बलीराम पांडे के मकान का ताला तोड़कर अज्ञात चोर लगभग 1300 रूपए नगद व मोबाइल फोन लेकर चंपत हो गए। चोरी के सभी मामलों की जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने मौका मुआयना करते हुए अज्ञात चोरों के विरूद्ध अपराध दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।सुरम्य पार्क तक गया खोजी कुत्ता
एक जानकारी में बताया जाता है कि कृष्णधाम कालोनी निवासी नगर निगम इंजीनियर ललितधर द्विवेदी की सूचना पर खोजी कुत्ते के साथ मौका मुआयना करने पहुंची पुलिस को आरोपियों का सुराग देने में खोजी कुत्ता कुछ खास मदद नहीं कर सका। खोजी कुत्ता श्री द्विवेदी के घर से निकल कर सुरम्य पार्क तक गया और इसके बाद वापस लौट आया।
तीन लोगों को भागते देखा था क्षेत्रवासियों ने
क्षेत्रवासियों ने बताया कि रात के समय सतुआ आदिवासी के मकान में सेंध लगाते समय आहट आने पर कुछ लोग जाग गए थे और घरों के बाहर निकल आए थे। जिसके कारण बदमाश अपने मंसबों को अंजाम नहीं दे पाए और वहां से भाग खड़े हुए। क्षेत्रवासियों की माने तो उन्होने रात के समय तीन युवकों को दौड़ लगाकर भागते देखा था।

Leave a Reply