डाक से घर पहुंचेंगी किताबें

एनसीईआरटी । राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) ने अब किताबों की किल्लत दूर करने के लिए ऑनलाइन पोर्टल शुरू की है। इससे स्कूल के खुलने तक 2018-19 सत्र के लिए पुस्तकों की खरीद का आदेश दे सकते हैं। इसके लिए स्कूलों को भी कहीं भटकना नहीं पड़ेगा।

 

बल्कि एनसीईआरटी के वेबसाइट पर ऑनलाइन किताबों का ऑडर कर सकेंगे। पोर्टल पूरे देश में एनसीईआरटी की किताबों के बेहतर वितरण को सुनिश्चित करेगा और उनकी उपलब्धता को लेकर स्कूलों व अभिभावकों की आशंकाओं का निदान करेगा।

डाक से पहुंचेंगी किताबें

स्कूलों के पास यह विकल्प रहेगा कि वे एनसीईआरटी के नजदीकी विके्रता प्रमुख सेंटर स्थित क्षेत्रीय उत्पाद व वितरण केंद्रों (आरपीडीसी) से पाठ्य पुस्तकें सीधे प्राप्त कर सकते हैं। अधिकारी ने कहा कि जल्द ही कोई भी संबंधित वेबसाइट पर लॉग इन करके ऑर्डर कर सकेगा, जिसके बाद पुस्तकें उनके घरों तक नाम मात्र के डाक शुल्क पर पहुंचा दी जाएंगी। खुदरा काउंटर पुस्तकों की बिक्री जारी रखेंगे।

इसे भी पढ़ें-  बदरीनाथ व केदारनाथ मंदिर को मुकेश अंबानी ने दान किए 2.17 करोड़

केंद्रीय विद्यालय में खुलेंगे काउंटर

स्कूल में नया सत्र शुरू होने से पहले किताब को लेकर किल्लत न हो इसके लिए एनसीईआरटी अभी से तैयारी में जुट गया है। वहीं सभी राज्यों के प्रमुख सीबीएसई स्कूल, केंद्रीय विद्यालय के कैम्पस में काउंटर खुलेगा, जहां से अभिभावकों को समय से पहले किताबे उपलब्ध हो जाएंगी।

Leave a Reply