मुरैना में दिखा गुजरात चुनाव का असर-एक ही अस्पताल में एक मां को चार बेटियां तो दूसरी के हुए तीन बेटे

मुरैना। मुरैना का जिला अस्पताल में पिछले दो दिनों में अजब संयोग बना। दो महिलाओं ने क्रमश: तीन और चार बच्चों को जन्म दिया। चौकानें वाली बात है कि दोनों ही मामले में जन्म लेने वाले बच्चे एक ही जेंडर के हैं। सबलगढ़ रामपहाड़ की सपना पत्नी अमर सिंह राठौर ने शनिवार को चार बेटियों को जन्म दिया।

सपना के पहले से भी दो बेटियां हैं। एक सात साल की है और दूसरी दो साल की। पति अमर सिंह ने बताया कि सोनोग्राफी कराने से उसे पता था कि पत्नी के गर्भ में चार बच्चे हैं। अमर सिंह मजदूरी करता है। वहीं रविवार को किशोरगढ़ सबलगढ़ निवासी गिरजा पत्नी सूर्यभान जादौन अपना पहला प्रसव कराने आईं।

इसे भी पढ़ें-  ‘सबरीमाला को थाइलैंड नहीं बनाना चाहते’, महिलाओं की मंदिर में एंट्री पर बोले बोर्ड चेयरमैन

उन्होंने तीन बेटों को जन्म दिया। जिला अस्पताल के डॉ. बनवारीलाल गोयल के अनुसार बच्चों का वजन सामान्य (2.5 किलो) से कम है इसलिए सभी को एसएनसीयू में भर्ती किया गया है।

हजारों में होता है एक केस : विशेषज्ञ

ग्वालियर की कमला राजा महिला अस्पताल के गायनिक विभाग की एचओडी डॉक्टर ज्योति बिंदल के अनुसार यह असामान्य घटना है। केस को परखने के बाद ही पता चलेगा कि किन परिस्थितियों में यह डिलेवरी हुईं हैं। और ऐसा होने से क्या कारण हैं।

उधर डॉ साधना शिवहरे प्रभारी गायनिक विभाग मुरार प्रसूती गृह का कहना है कि जिन महिलाओं को लंबे समय तक बच्चे नहीं होते वो अक्सर दवाईयां लेती हैं। जिससे एक से अधिक बच्चे होने की संभावना बढ़ जाती है। लेकिन सभी एक ही जेंडर के हों यह निश्चित ही चौकानें वाली बात है।

Leave a Reply