‘महिला को लगातार 15 सेकंड नहीं देख सकते, बेहद सख्त सजा है’

भिंड। महिला के साथ अपरिहार्य कार्य करने की कोशिश की तो बेहद सख्त सजा है। आप 15 सेकंड लगातार महिला को नहीं देख सकते। सुप्रीम कोर्ट की गाइड लाइन है। ध्यान रखें। वरना कोई बचाने वाला नहीं है। मैं तो अपने को अंधा महसूस करने लगा हूं।

इतना डर गया हूं पहले तो तारीफ कर देता था पर अब नहीं करता। महिलाओं के लिए अपनी नजरें सच्ची रखें। यह बात अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक कल्याण एसएम अफजल ने पुलिस लाइन में पुलिस अफसरों-कर्मचारियों से संवाद में कही।

संवाद में उन्होंने पुलिसकर्मियों की समस्याएं सुनी और निराकरण किया। इस दौरान एसपी प्रशांत खरे, एएसपी राजेंद्र वर्मा मौजूद रहे।

इसे भी पढ़ें-  हंगामे की भेंट चढ़ा 'ट्रिपल तलाक बिल', कार्रवाई स्थगित

पत्नी के पैर छूने को कहा तो सभी हंसे

रिजर्व पुलिस लाइन में हुए संवाद में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक कल्याण एसएम अफजल ने शिकायतें सुनने के साथ पुलिस अफसरों और उनके परिवार को खूब हंसाया। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक पुलिस अफसरों और कर्मचारियों से कहा, पत्नी के रोज पैर छूना चाहिए। यह बात आपको खुश करने के लिए नहीं कह रहा और न इलेक्शन लड़ने का इरादा है। उन्होंने कहा मर्द समझते हैं तनख्वाह देकर अपना पूरा काम कर लिया। उनको नहीं पता घर में रहकर महिलाओं को बच्चे पालने में कितनी तकलीफ होती है।

इच्छाओं का हल नहीं हो सकता

इसे भी पढ़ें-  सिंगरौली : छुही खदान से मिटटी निकाल रही महिला की दबने से मौत

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक कल्याण ने कहा हमारे पास कोई जादू की छड़ी नहीं है। समस्याएं बतानी होंगी। समस्याओं का हल हो सकता है। इच्छाओं का नहीं। मैं कहता हूं मुझे अमेरिका का राष्ट्रपति बना दिया जाए। यह समस्या नहीं है मेरी इच्छा है। हमारे जवान बहुत सी सुविधाओं से वंचित हैं। भर्ती चल रही है 30 हजार पुलिस बल बढ़ेगा। आपके थाने में बल की कमी नहीं होगी। छुट्टी आसानी से मिलेंगी। घर जाकर थकान के वजह से पत्नी और बच्चों से झगड़ेंगे नहीं।

 

Leave a Reply

Gallery Powered By : XYZScripts.com