सेल्फी की दीवानगी छीन सकती है वोट डालने का मौका

जबलपुर। सेल्फी की दीवानगी वोट डालने का मौका छीन सकती है। इसका ताजा उदाहरण मतदाता सूची के लिए ऑनलाइन फार्म जमा करने वाले ऐसे ही युवा बने हुए हैं। जो पासपोर्ट साइज फोटो की जगह अपनी सेल्फी वाली फोटो ऑनलाइन भेज रहे हैं। निर्वाचन कार्यालय ने ऐसे सभी सेल्फी वाले फार्म को रिजेक्ट कर दिया है। अभी तक दो दर्जन से ज्यादा सेल्फी वाले फार्म को रद्द किया जा चुका है। कार्यालय के कर्मचारी इन युवाओं से संपर्क करके उन्हें पासपोर्ट साइज की फोटो की डिमांड भी कर रहे हैं। जिससे उनका नाम समय रहते मतदाता सूची में शामिल किया जा सके।

इसे भी पढ़ें-  बैंक ने नहीं लिए सिक्के तो 4 हजार में बेच दिए ऐसे, मचा बवाल...

इसलिए रिजेक्ट होता है फार्म

– मतदाता सूची और वोटर कार्ड में सभी लोगों के पासपोर्ट साइज के फोटो लगाने के नियम हैं। सेल्फी की फोटो भेजने पर कार्ड या सूची में उसे दर्ज करना मुश्किल होता है। वहीं फोटो में चेहरा साफ नजर नहीं आता।

– ऑनलाइन फार्म भरने वाले लोगों की संख्या भी बहुत कम है। लगभग 300 से ज्यादा लोगों ने ही ऑनलाइन फार्म जमा कराए हैं। इनमें भी किसी न किसी तरह के दस्तावेज कम होने पर फार्म को रद्द किया जा रहा है।

ऑनलाइन फार्म में इन बातों का ध्यान रखें

– यदि आपने ऑनलाइन फार्म एनवीएफटी के पोर्टल से जमा किया है तो कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

इसे भी पढ़ें-  पकौड़े पर तमन्ना भारी, अमित शाह के खिलाफ दर्ज हुआ कोर्ट

– आपकी फोटो के पिछले हिस्से में सफेद रंग का पर्दा होना चाहिए। जिससे स्कैन करने के बाद वोटर कार्ड में बेहतर फोटो आ सके।

– आपको अपनी पासपोर्ट साइज की रंगीन फोटो ही स्केन करके भेजना है।

– ब्लैक एंड वाइट फोटो का उपयोग नहीं करना है।

– पहली बार यदि आपका नाम मतदाता सूची में जोड़ा जा रहा है तो अपने परिवार या पड़ोसी का पहले से बना वोटर कार्ड का नंबर फार्म में दर्ज करना होगा।

ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन

– एनवीएफटी पोर्टल में एंट्री करने के बाद आपको नया वोटर बनने का ऑप्शन मिलेगा। इसमें क्लिक करना होगा और अपने जरूरी दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, पेन कार्ड, परिवार या पड़ोसी का वोटर कार्ड नंबर दर्ज कर सकते हैं।

Leave a Reply