शरद पवार की किसानों से अपील- कर्ज माफी तक ना चुकाएं बिल

नागपुर। राकांपा प्रमुख शरद पवार ने मंगलवार को महाराष्ट्र के किसानों से कर्ज और बिजली बिल जैसे सरकारी बकाए का भुगतान नहीं करने को कहा है। उन्होंने मंगलवार को कहा कि जब तक उनके बैंक खाते में कर्ज माफी की राशि जमा नहीं कराई जाती है तब तक यह कदम उठाएं। राकांपा प्रमुख ने गुजरात चुनाव में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के खिलाफ आरोप लगाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया।

कांग्रेस और राकांपा की ओर से नागपुर में कृषि संकट के मुद्दे पर आयोजित “हल्ला बोल” को संबोधित करते हुए पवार ने कहा कि यदि सरकार को लोगों की परवाह नहीं है तो लोग भी उसके साथ सहयोग नहीं करें। पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा, “जबतक किसानों के खाते में कर्ज माफी की राशि जमा नहीं की जाती है तबतक के लिए मैं कृषक समुदाय से राज्य सरकार को कोई बकाया यहां तक कि बिजली बिल भी जमा नहीं कराने की अपील कर रहा हूं।”

इसे भी पढ़ें-  श्री लंका ने भारत को 7 विकेट से हराया

महाराष्ट्र सरकार ने 24 जून को 34022 करोड़ रुपये के कृषि ऋण की माफी की घोषणा की थी। यह घोषणा राज्य भर में किसानों के आंदोलन के बाद की गई थी। नौ जुलाई को मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने कहा था कि राज्य के करीब 36 लाख किसानों का पूरा कर्ज समाप्त हो जाएगा। पवार ने मुख्यमंत्री से ब्लैकमेल की राजनीति से बाज आने को कहा।

पवार ने जोर देकर कहा, “महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने विपक्ष को ब्लैकमेल करने वाली भाषा का प्रयोग किया है। हम लोगों के जनादेश का सम्मान करते हैं। लोगों ने ही शासन के लिए चुना है। लेकिन यदि वह समझते हैं कि ब्लैकमेलिंग भी उनकी सरकार को मिले जनादेश का हिस्सा है तो उन्हें याद रखना चाहिए कि लोग उन्हें सत्ता से बेदखल भी कर सकते हैं।”

Leave a Reply