मुस्लिम विरोधी ट्वीट करके फिर सुर्खियों में राष्ट्रपति ट्रंप

वाशिंगटन। अपनी मुस्लिम विरोधी छवि के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं। ट्रंप ने एक ट्वीट किया है जिसके बाद उनकी आलोचना होने लगी है। ट्वीट्स सामने आने के बाद ब्रिटेन ने इस पर आपत्ति जताई है। खबरों के अनुसार ट्रंप ने अपने ट्विटर हैंडल से एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं जिनमें उन्होंने मुस्लिम विरोधी वीडियो शेयर किए।

खबरों के अनुसार ट्रंप ने फार राइट ग्रुप ब्रिटेन फर्स्ट की डिप्टी लीडर जायदा फ्रेंसन के ट्वीट को शेयर किया। ट्रंप द्वारा शेयर किए गए पहले वीडियो में कथित तौर पर यह दावा किया गया कि मुस्लिम शरणार्थियों ने दिव्यांग डच लड़के को पीटा। राष्ट्रपति बनने के कुछ दिनों के अंदर ही उन्होंने छह मुस्लिम बहुल देशों से आने वाले लोगों की यात्रा पर प्रतिबंध लगाने के लिए एक शासकीय आदेश पर साइन किया था।

दूसरे शेयर किए गए पोस्ट में यह दावा किया गया कि मुस्लिमों ने वर्जिन मैरी की प्रतिमा को तोड़ दिया। तीसरे शेयर किए गए पोस्ट में कहा गया कि इस्लाम से प्रेरित भीड़ ने किशोर को छत से फेंका और मरने तक उसे पीटते रहे।

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार के तौर पर सामने आने के बाद से ही ट्रंप अपनी मुस्लिम विरोधी सोच के लिए जाने जाते हैं। उस समय ट्रंप की छवि आतंकवाद विरोधी एक सख्त नेता के रूप में उभर कर सामने आई थी। हालांकि ट्रंप के इस कदम पर फ्रेंसन ने खुशी जताई है।

टेरीजा ने जताई आपत्ति

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने ट्रंप के ट्विटर संदेशों पर आपत्ति जताई है। उनके प्रवक्ता ने कहा कि ट्रंप ने ऐसा करके गलत किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *