सरकारी कार्यक्रम से क्षेत्रीय विधायक का किया पत्ता साफ, बाहर के विधायक अतिथि बन पहुंचे

जबलपुर नगर प्रतिनिधि। पनागर विधानसभा अंतर्गत बरेला के पहाड़ी खेड़ा गांव में आज एक खेल मैदान का लोकार्पण किया जाना है साथ ही लोधी समाज का कार्यक्रम भी है। खेल मैदान का लोकार्पण तथा सामाजिक कार्यक्रम एक साथ ही रखा गया है।

घर के देव ललाऐं, बाहर के पूजे जावें

आपसी गुटबाजी – पनागर विधानसभा सीट

खेल का मैदान 55 लाख रूपये की सरकारी मद से तैयार किया जा रहा है। जिसके लोकार्पण में केन्द्रीय मंत्री उमा भारती, पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल, विधायक प्रतिभा सिंह, विधायक जालिम सिंह बतौर अतिथि मौजूद रहेगें। चूंकि दोनों कार्यक्रम एक साथ है जिसके चलते सरकारी कार्यक्रम को सामाजिक कार्यक्रम से जोड़ दिया गया है लेकिन इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस आयोजन से क्षेत्रीय विधायक इन्दू तिवारी को पूरी तरह से बाहर रखा गया है न तो उन्हें कार्यक्र्रम में आमंत्रित किया गया न ही कार्यक्रम के बैनर पोस्टरों में उन्हें कोई जगह नहीं दी गई। जबकि सामाजिक कार्यक्रम के पोस्टरों में प्रभात साहू, विनोद मिश्रा, विनोद गोटिंया, जीएस ठाकुर, सहित विधायकों, संासदों, पूर्व मंत्रियों, महापौर आदि को स्थान दिया गया है। जो कि लोधी समाज से है ही नहीं वहीं क्षेत्रीय विधायक दूर-दूर तक दिखाई नहीं देते जो अब चर्चा का विषय बना हुआ है।
प्रोटोकॉल में है विधायक
नियमानुसार जब भी काई सरकारी आयोजन या सरकारी मत से तैयार सार्वजनिक स्थल का लोकार्पण होता है तो ऐसे में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित करना अनिवार्य होता है। चाहे वे सत्ता पक्ष के हो विपक्ष के जो कि एक प्रोटोकॉल के तहत किया जाता है। जबकि पहाड़ी खेड़ा बरेला में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में खेल के मैदान का लोकार्पण हो रहा है तो फिर विधायक को बुलाया जाना चाहिए था।
यहां भी नहीं मिली जगह
कार्यक्रम की तैयारी लंबे समय से चल रही थी। जिसकों लेकर पूरी पनागर विधासभा क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर बैनर पोस्टर लगायें गये है। घर-घर जाकर लोगों को आमंत्रित किया। सोशल मिडीया पर भी जमकर प्रचार हुआ इस पूरी कैंपेन से क्षेत्रीय विधायक इंदू तिवारी को बाहर रखा गया। जब आयोजको से इसकी वजह पूछी गई तो उन्होनें बताया कि यह एक सामाजिक कार्यक्रम है न कि राजनैतिक। वहीं दूसरी तरफ कार्यक्रम के पोस्टरों में इंदू तिवारी को छोड़कर भाजपा की पूरी फौज दिखाई दे रही है जिसमें संगठन पदाधिकारियों से लेकर जनप्रतिनिधियों के चेहरे पोस्टरों में चिपके हुए है लेकिन जिसका क्षेत्र है वो ही इस क्षेत्र से गायब है।
दिखने लगी गुटबाजी
इस पूरे मामले से भारतीय जनता पार्टी की अंदरूनी कलह सामने आ गई है। जो विवाद पार्टी फोरम पर और बंद कमरों में हुआ करते थे। वे अब सड़कों पर दिखने लगें है। संजय पटेल और इंदू तिवारी के मतभेद् तो पहले से थे लेकिन ये भेद् अब मनभेद् में बदल गये है। जिसका खामियाजा भारतीय जनता पार्टी को आगामी चुनावों में भुगतना पड़ सकता है। पहले जहां पनागर सीट भाजपा के लिए अच्छी स्थिति पैदा कर रही थी अब उसकी वास्तविकता भी सामने आ गई है।
क्या कर रहा संगठन
एक जनप्रतिनिधि कि अपने ही पार्टी के लोगों द्वारा इस तरह से उपेक्षा की जा रही है और संगठन चुप्पी साधे बैठा हुआ है। कार्यक्रम में ग्रामीण नगर अध्यक्ष शिव पटेल को भी आमंत्रित किया गया है बैनर पोस्टरों में भी उनका चेहरा दिख रहा है। वे अपना सम्मान तो करा रहे है लेकिन अपने ही एक विधायक के अपमान पर चुप्पी साधे है जबकि अध्यक्ष होने के नाते उनका नैतिक दायित्व था कि वे विधायक को उचित सम्मान दिलायें लेकिन वे अपने सम्मान के चक्कर में अपने दायित्वों को ही भूल गये।

वज़र्न
इस तरह का कोई कार्यक्रम हो रहा है मुझे कोई भी जानकारी नहीं दी गई। मेरे घर में बेटे की शादी है मैं उसमें व्यस्त हूं लेकिन कार्यक्रम के विषय में किसी ने कुछ भी नहीं बताया।
इंदू तिवारी
विधायक, पनागर
ये सामाजिक कार्यक्रम है खेल का मैदान सरकारी पैसे से बना है लेकिन उसका लोकार्पण भी सामाजिक कार्यक्रम के साथ हो रहा है इस कारण क्षेत्रीय विधायक को नहीं बुलाया गया।
संजय पटेल
जनपद अध्यक्ष एवं आयोजक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *