पाक जासूस ने अपनी ही एजेंसी को बताया आतंक समर्थक, कोर्ट में लगाई याचिका

इस्लामाबाद। भारत लगातार इस बात के सबूत देता आया है कि पाकिस्तान आतंकियों का संरक्षक है लेकिन वो मानने से इन्कार करता रहा। इस बार पाकिस्तान के अधिकारी ने अपने ही देश की एजेंसियों पर आतंकी समर्थक होने का आरोप लगाया है और इसके खिलाफ कोर्ट में याचिका तक लगाई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मलिक मुख्तार अहमद शहजाद जो कि पाकिस्तानी इंटेलीजेंट ब्यूरो में असिस्टेंट सबइंस्पेक्टर हैं उन्होंने अपने वरिष्ठ अधिकारियों पर आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई ना करने का आरोप लगाया है। इसके साथी ही उन्होंने हाईकोर्ट में याचिका भी लगाई है जिसमें उन्होंने मामले की जांच आईएसआई से करवाने की अपील की है।

इसे भी पढ़ें-  आनंदी बेन पटेल बनीं मध्‍य प्रदेश की राज्‍यपाल

इस्लामाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस आमीर फारूकी ने यह केस चीफ जस्टिस को इस नोट के साथ भेजा है कि इसे जस्टिस शौकत अजीज को ट्रांसफर किया जा सकता है क्योंकि एक आइडेंटिकल केस कोर्ट में पहले से पैंडिंग है। याचिका में कहा गया है कि पुख्ता सबूत दिए जाने के बाद भी आतंकियों पर कार्रवाई नहीं हुई।

इंटेलिजेंस की पूरी गैदरिंग प्रोसेस में यह समझ आया कि कुछ उच्च स्तर के अधिकारी सीधे तौर पर आतंकी संगठनों से जुड़े हुए हैं। इसमें यह भी कहा गया है कि आईबी के डायरेक्टर को भी इसकी जानकारी दी गई लेकिन उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की।

Leave a Reply