भोपाल में गांधी नगर थाने पर पथराव, वाहनों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज

भोपाल। गांधीनगर इलाके में संदिग्ध परिस्थितियों में झुलसी एक महिला की रविवार देर रात मौत हो गई, महिला की मौत के बाद उसके परिजनों और रिश्तेदारों ने गांधी नगर थाने के सामने चक्काजाम कर दिया। ढाई घंटे तक चले चक्के जाम के कारण दोनों ओर लंबी – लंबी कतारे लग गई। प्रदर्शनकरियों में एनजीओ और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्त्ता भी शामिल थे। प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि पुलिस कर्मिर्यों को निलंबित किया जाए।

बातचीत के दौरान ही प्रदर्शनकारियों और पुलिस में झड़प हो गई। इसी दौरान प्रदर्शनकारियों ने गांधी नगर थाने पर पथराव कर दिया। पथराव होते ही पुलिस ने स्थिति को काबू करने आंसू गैस के गोले छोड़े और प्रदर्शनकरियों के खिलाफ सख्ती बरतते हुए चक्काजाम खुलवाया गया। तब जाकर स्थिति नियंत्रण में आई।

जानकारी के अनुसार नई बस्ती पारदी मोहल्ला निवासी इंद्रा बाई पति उदय सिंह(25) शुक्रवार शाम घर के बाहर कचरा जलाते समय आग में झुलस गई थी। घटना के बाद परिजनों ने उसे हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया था। आग लगने से करीब 60 फीसदी झुलस गई है।

घटना के बाद शनिवार को ही महिला के परिजनों ने गांधी नगर थाने में एक लिखित आवेदन दिया है कि जिसमें आरोप लगाए हैं कि गांधी नगर पुलिस के गजराज और जाघव नाम के दो पुलिस कर्मी उससे बीस हजार र्स्पए मांग रहे थे, नहीं तो चोरी के केस में फंसने की धमकी दे रहे थे इसलिए महिला ने खुद को आग लगाई थी । इधर,दो दिन से हमीदिया अस्पताल में भर्ती महिला ने रविवार देर रात दम तोड़ दिया।

ढाई घंटे रहा चक्कजाम

महिला की मौत की खबर जैसे ही उसके परिजन और रिश्तेदारों के पास पहुंची तो सैंकड़ों की संख्या में पारदी समुदाय ने गांधी नगर थाने के सामने बीच सड़क पर बैठकर चक्काजाम कर दिया। इस प्रदर्शन के कारण हाईवे पर दोनों तरफ लंबी – लंबी कतारे लग गई। इस चक्का जाम के कारण स्कूल और कॉलेज के छात्र घंटों इस चक्का जाम में फंसे रहे । प्रदर्शनकारी पैदल लोगों और दो पहिसा वाहन चालकों को नहीं निकलने दे रहे थे। इसे एयरपोट्र जाने वाले लोग भी जाम में फंसे रहे।

ऐसे बिगड़ी स्थिति

पारदी समुदाय प्रदर्शन कर रहा था, तब तक शांतिपूर्वक तरीके से प्रदर्शन किया जा रहा था।पुलिस और पीड़ित परिवार में बातचीत जारी थी। प्रदर्शन में एनजीओ और आप पार्टी के कार्यकर्त्ता शामिल हुए तो पुलिस से उनकी झड़प हो गई। प्रदर्शनकारी आरोपी पुलिस कर्मियों के खिलाफ निलंबित करने की मांग कर रहे थे। सीएसपी निशातपुरा लोकेश सिन्हा उनको भरोसा दे रहे थे।

इसी दौरान एएसपी समीर यादव और आप पार्टी के प्रदेश संयोजक आलोक अग्रवाल के बीच तीखी बहस हुई और पुलिस से उनकी धक्का मुक्की में वह जमीन पर गिर गए। इसी दौरान प्रदर्शनकारियों भड़क गए और गांधी नगर थाने पर भारी पथराव कर दिया। थाने में खड़े वाहनों में भी तोड़फोड़ की गई।

पथराव के बाद पुलिस ने स्थिति संभालते हुए। प्रदर्शनकारियों पर जमकर लाठियां भांजी और आंसू गैस के गोले छोड़कर उनको खदेड़ दिया। आधे घंटे मशक्कत के बाद स्थिति पर काबू पाया गया है। पुलिस ने आप पार्टी के नेता आलोक अग्रवाल और दो एनजीओ सदस्य शिवानी तनेजा और सीमा देशमुख को हिरासत में ले लिया था।

6 thoughts on “भोपाल में गांधी नगर थाने पर पथराव, वाहनों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज

  • December 10, 2017 at 5:39 AM
    Permalink

    Wonderful goods from you, man. I have understand your stuff previous to and you are just too fantastic. I really like what you have acquired here, certainly like what you are saying and the way in which you say it. You make it enjoyable and you still care for to keep it smart. I can not wait to read much more from you. This is actually a tremendous site.

    Reply
  • December 14, 2017 at 8:21 PM
    Permalink

    Thank you, I have just been looking for information about this subject for a long time and yours is the greatest I have discovered till now. However, what in regards to the bottom line? Are you certain in regards to the source?

    Reply
  • December 16, 2017 at 1:41 PM
    Permalink

    I’m really intrigued to find out which website platform you are using? I am having a few small protection difficulties with our most recent website about free movie websites so I would like to find a thing more risk-free. Have you got any solutions?

    Reply
  • December 17, 2017 at 12:18 AM
    Permalink

    F*ckin’ awesome issues here. I’m very happy to peer your post. Thank you a lot and i am having a look forward to contact you. Will you kindly drop me a e-mail?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *