बार-बार हो रहे मौसम में बदलाव से मच्छरों की रेजिस्टेंट बढ़ी

जबलपुर। मौसम में ठंडक बढ़ने के बाद भी इस बार डेंगू बुखार को जन्म देने वाले एडीज मच्छर सक्रिय हैं। वजह है उनकी रेजिस्टेंट पावर बढ़ जाना। बार-बार हो रहे मौसम परिवर्तन के कारण मच्छरों की रेजिस्टेंट बढ़ गई है। रात का तापमान कम है और दिन का अधिक, इसलिए ये मच्छर रात में छिपे रहते हैं और दिन में लोगों को शिकार बनाते हैं। जब तक दिन का तापमान गिरकर 12 डिग्री सेल्सियस से कम नहीं होगा, तब तक एडीज मच्छर नहीं मरेंगे। शहर में रात के तापमान में तो गिरावट आई है लेकिन दिन में पारा 30 डिग्री सेल्सियस से नीचे नहीं उतरा है। उधर स्वास्थ्य विभाग, एनजीओ की सहायता लेकर निजी शासकीय स्कूलों, कॉलेजों सहित अन्य संस्थाओं में जाकर लोगों को डेंगू के प्रति जागरुक करने की तैयारी कर रहा है।
1 व्यक्ति को 4 बार भी हो सकता है डेंगू
डेंगूके 4 वायरस डेन-1, डेन-2, डेन-3, डेन-4 हैं। इनमें से मरीज को एक ही प्रकार के वायरस से डेंगू होता है, जिससे उसकी प्रतिरोधक क्षमता सिर्फ उसी वायरस के विरुद्ध बनती है। शेष तीन तरह के डेंगू वायरस के विरुद्ध प्रतिरोधक क्षमता नहीं बन पाती है। इसलिए एक वायरस से डेंगू होने के बाद तीन अन्य वायरस के सक्रिय होने पर उसी मरीज को 3 और बार डेंगू हो सकता है। अलग-अलग वायरस से एक व्यक्ति को चार बार भी डेंगू हो सकता है। कुछ केस में ऐसा देखा भी गया है कि एक ही मरीज को चारों तरह के डेंगू हुए हैं। इतना ही नहीं यदि रोगी की रोग प्रतिरोधक क्षमता इन वायरस से निपटने के लिए नहीं बची तो ये वायरस पुन: रिपीट भी हो सकते हैं, लेकिन यह संभावना बहुत ही कम रहती है। -डॉ. दीपक बरकड़े

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *