IT विभाग कसेगा शिकंजा, नोटबंदी के बाद मोटी रकम जमा करनेवालों की खैर नहीं

नई दिल्ली। नोटबंदी के बाद बैंक खातों में बड़ी राशि जमा करने वालों के खिलाफ आयकर विभाग ने सख्त रुख अख्तियार कर लिया है। आयकर विभाग ने नोटबंदी के बाद बैंकों में मोटी रकम जमा कराने वाले एक लाख लोगों और फर्मों को नोटिस भेजने की तैयारी कर ली है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि संदिग्ध गड़बड़ियों की गहन जांच के लिए ऐसे लोगों के आयकर रिटर्न को निकाल लिया गया है।

पहले चरण में 70000 लोगों को भेजा जाएगा नोटिस 
सूत्रों ने बताया कि ऐसे लोगों को नोटिस भेजने का काम इसी हफ्ते शुरू किया जाएगा। पहले चरण में 70000 लोगों को नोटिस भेजा जाएगा, जिन्होंने बैंकों में 50 लाख से ज्यादा रकम जमा कराई, लेकिन रिटर्न नहीं भरा या आयकर विभाग को जवाब नहीं दिया। इसी तरह दूसरे चरण में करीब 30000 ऐसे लोगों को नोटिस भेजा जाएगा, जिन्होंने नोटबंदी के बाद बड़ी रकम जमा कराई, लेकिन उनके रिटर्न और खाते के पूर्व के लेनदेन काफी विरोधाभासी हैं।

‘ऑपरेशन क्लीन मनी’ का हिस्सा 
अधिकारी ने बताया कि विभाग का यह कदम ‘ऑपरेशन क्लीन मनी’ का हिस्सा है, जो उसने कालेधन पर रोक लगाने के लिए इस वर्ष जनवरी में उठाए थे। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक नोटबंदी के बाद आयकर अधिकारियों ने 23.22 लाख बैंक खातों में 3.68 लाख करोड़ के 17.73 लाख संदिग्ध मामलों का पता लगाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *