रेल यात्री का बैग पार कर फेंक दिया था झाड़ियो में

जबलपुर मनप्र। जबलपुर स्टेशन पर यात्री गाड़ियो पर स्टेशन परिसर में होने वाले अपराधो की रोकथाम के लिए निरीक्षक वीरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में चैकिंग अभियान चलाया गया। इस अभियान में उपनिरीक्षक शिवराम सिंह एएसआई एस के मिश्रा, एएसआई एमपी मिश्रा, प्रधान आरक्षक संजय प्रताप, आरक्षक ओमनारायण सिंह, आरक्षक हीरेन्द्र प्रताप सिंह, आरक्षक शिवराम शर्मा, गस्त में थे। दौरानी गस्त गाड़ी संख्या 22191 ओव्हर नाईट एक्सप्रेस को सुरक्षित पास कराने के उपरांत प्लेटफार्म नं. 6 पर स्टेशन चैकिंग के दौरान रात करीब 12ः30 बजे इटारसी छोर एसी शेड के पास एक व्यक्ति पुलिस को देखकर छिपने का प्रयास करने लगा। संदेह परिस्थिति व संदिग्धता को भांपते हुए त्वरित कार्यवाही कर भागने वाले व्यक्ति को एक काले रंग के बड़े बैग के साथ पकड़ा गया। पकड़े गये व्यक्ति से जब पूछताछ की गई तो वह संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया। मामला संदिग्ध लगने पर आरपीएफ कर्मियों ने जब उससे कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना नाम गोविंद पिता बेटूलाल डूमार प्रेमसागर सरकारी बिल्डिंग के पीछे रहना बताया उक्त व्यक्ति से रात्रि में रेल्वे एरिया में आने व छिपने का प्रयास करने के संबंध में जब पूछताछ की गई तो उसने बताया कि 5 नवंबर को दोप. के वक्त उसेन एक बैग ट्रेन से किसी यात्री का चोरी कर मौके पर झाड़ियो के बीच छिपाकर रख दिया था। जिसे लेने के लिये वह आया था। उक्त व्यक्ति द्वारा बैग को झाड़ियो से निकालकर जब बैग खोलकर देखा गया तो आरपीएफ कर्मियों के होश उड़ गये। बैग के अंदर एक दोनाली बंदूक तीन भागो में खुली हुई। छः नग बार बोर के जिन्दा कारतूस जिसमें के एल 12 अंकित था। इसके अलावा एक नग कारतूस रखने की वनडोरी जिसकी अनुमानित कीमत करीब 65 हजार रूपये बताई जा रही है। इसके अलावा बैग में दो जोड़ी काले रंग की वर्दी एवं जर्सी एक बनीयान एक साफी एक दरी लोई एक प्लास्टिक के डब्बे में शेविंग का सामान भी मिला। बैग के अंदर एक नीले रंग की फाईल मिली है। जिसमें सीमा सुरक्षा बल का सेवा निवृत्त होने का प्रमाण पत्र मिला है जिसमें रामवीर सिंह लिखा हुआ है। इसके अलावा अन्य कागजातो की छायाप्रतियां जिसमें आधार कार्ड, परिचय पत्र 12 बोर बदंूक के लायसेंस की छायाप्रति एक चेक बुक आईसीआईसी बैंक की रामवीर सिंह पिता चुनवाद सिंह उम्र 43 साल ग्राम चिरौरहा थाना चिल्ला जिला बाधा यूपी नाम का होना पाया गया है। बैग में एक उपचार से संबंधित कागजातो की फाईल रामदेव भाई मिश्रा के नाम की मिली है उक्त चोर के पास से कुल 7० हजार रूपये का मसरूका बरामद हुआ है। पकड़े गये चोर से ट्रेनो में होने वाली और भी चोरियों का खुलासा हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *