स्कूलों की मासिक ग्रेडिंग में जबलपुर जिला फिसड़्डी, मिली डी ग्रेड

जबलपुर,यभाप्र। स्कूलों में आपस में प्रतिस्पर्धा बढ़ाने के लिए लोक शिक्षण संचालनालय ने पहली बार हाई स्कूल और हायर सेकंडरी स्कूलों में ग्रेडिंग शुरू करने की व्यवस्था की है। जिसके अंतर्गत प्रत्येक महीने स्कूलों की ग्रेडिंग तय की जाएगी। साथ ही कमजोर ग्रेडिंग के स्कूलों को बेहतर बनाने की दिशा में प्रयास किया जाएगा। लोक शिक्षण संचालनालय ने सितंबर की ग्रेडिंग जारी की है। पहली बार हाईस्कूल और हायर सेकंडरी स्कूलों की मासिक ग्रेडिंग हुई। इसमें जबलपुर जिला फिसड़डी साबित हुआ,उसे डी-ग्रेड मिली । जबकि उज्जैन जिले ने बाजी मारते हुए प्रदेश में पहला स्थान पाया है। उसे डी-ग्रेड प्राप्त हुई।
जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया जिले की रैंकिंग में उज्जैन जिले को पहला स्थान मिला है। जिलों की रैंकिंग में उज्जैन जिले को सबसे अधिक 51.35 अंक मिले। जिले के कुल 185 में से 39 स्कूलों को बी-ग्रेड, 120 स्कूलों को सी-ग्रेड और 26 स्कूलों को डी-ग्रेड मिली है। जिलों की रैंकिंग में स्कूलों की ग्रेडिंग को 30 प्रतिशत का वैटेज दिया गया। बाह्य मूल्यांकन के आधार पर स्कूलों की अंतिम ग्रेडिंग नवंबर में जारी की जाएगी। बाह्य मूल्यांकन की ग्रेडिंग को ही अंतिम माना जाएगा। स्कूलों में बाह्य मूल्यांकन की प्रक्रिया अर्द्धवार्षिक परीक्षा के बाद फिर से दिसंबर में दोहराई जाएगी। रैंकिंग में जबलपुर,भोपाल और इंदौर सहित प्रदेश के अन्य जिले काफी पिछड़ गए हैं। लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा जारी सूची में ग्वालियर टॉप-20 में आ पाया है। जबलपुर जिला 33.67 अंक के साथ 26वें स्थान पर है। जबकि ग्वालियर जिला 37.44 अंक के साथ 17 वें और भोपाल जिला 24.34 अंक के साथ 46वें स्थान पर आया है। इंदौर जिला 17.31 अंक हासिल करके प्रदेश की रैंकिंग में सबसे आखिरी में 51वें स्थान पर है।
इन मापदंडों पर तय हुई ग्रेडिंग
ग्रेडिंग का मापदंड निर्धारित करने के लिए स्कूलों में अधोसंरचना, सीखना-सिखाना, विद्यार्थी प्रगति, शिक्षकीय कार्य प्रदर्शन, शाला प्रबंधन, समावेश और सहभागिता के 7 पैरामीटर रखे गए थे। स्कूलों में प्राचार्यों से इसकी ऑनलाइन जानकारियां भरवाई और ग्राउंड पर जाकर अधिकारियों के दलों ने सत्यापन किया। अपर श्रेणी की बर्थ खाली है तो मैनुअल की बजाय ऑनलाइन टिकट वालों को पहले मौका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *