भारतीय किसान हमारे यहां कर रहे हैं धुअांः पाकिस्तान

इस्लामाबाद : भारत के कई इलाकों में धुंध का कहर जारी है। भारत के अलावा पाकिस्तान में भी इसका असर दिखाई दे रहा है। पाकिस्तान अधिकारियों के मुताबिक भारतीय किसानों द्वारा फसलों को जलाने से पाकिस्तान पंजाब में धुंध की पतली परत छा गई है जिसके कारण लोगों को कई तरह की स्मस्याअों का सामना करना पड़ रहा है। पाकिस्तान ने भारत की सीमा से सटे इलाकों में बढ़ती धुंध के लिए भारत पर आरोप मढ़ा है।

पंजाब प्रांत के पर्यावरण संरक्षण विभाग के अधिकारियों ने कहा कि शनिवार की रात छाई धुंध कई बीमारियों का कारण बन रही है। प्रांतीय सरकार स्थिति को नियंत्रित करने के उपाय कर रही है। पाकिस्तानी अखबार द डान के मुताबिक पाकिस्तान पंजाब के दक्षिणी और मध्य इलाकों में स्थिति भयावह है और खतरे की घंटी बजने वाली है। लाहौर के अलावा पंजाब के अलग-अलग शहरों में लोग प्रदूषण से बेहाल हैं और उनमें सांस संबंधी तकलीफें पिछले तीन-चार दिनों से बढ़ गई हैं।

पर्यावरण विभाग के एक अधिकारी सईद मुबाशिर हुसैन ने कहा कि प्रांतीय सरकार ने पूरे प्रांत में पराली जलाने पर प्रतिबंध लगा दिया है और इसका उल्लंघन करने वालों को गिरफ्तार किया जा रहा है। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले कुल 197 के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है और 65 लोगों को पराली और ठोस अपशिष्ट जलाने को लेकर गिरफ्तार किया गया है।

हुसैन ने बताया कि प्रदूषण करने वाली करीब 175 इकाइयां बंद कर दी गई हैं। धुआं उत्सर्जित करने वाले 15,718 वाहनों को जब्त कर लिया गया है और करीब 43 लाख पाकिस्तानी रुपए (करीब 43,000 डॉलर) का जुर्माना लगाया गया है। धुंध से न केवल स्वास्थ्य प्रभावित होता है, बल्कि ये सड़क दुर्घटनाओं का भी कारण बनता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *