गांगुली ने किया खुलासा- पत्नी से ज्यादा इस शख्स के साथ वक्त गुजारते हैं आशीष नेहरा

जैसा की आप सभी जानते हैं कि भारतीय क्रिकेटर आशीष नेहरा अपने 18 साल पुराने करियर को अलविदा कह चुके हैं। बुधवार को भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया टी-20 मैच आशीष नेहरा का आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच था। दिल्ली स्थित फिरोज शाह कोटला स्टेडियम में बहुत ही सम्मान के साथ आशीष नेहरा को विदाई दी गई। वहीं नेहरा को लेकर भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने नया खुलासा किया है। इंडिया टुडे को दिए एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा, मुझे लगता है उनके बेस्ट फ्रेंड फिजियो थे। क्योंकि मेरा मानना है कि उन्होंने अपनी पत्नी से ज्यादा समय अपने फिजियो के साथ बिताया है। हालांकि अपनी बॉडी की वजह अधिकांश समय तक वो क्रिकेट नहीं खेल सके। लेकिन वो बहुत प्रतिभाशाली थे इसलिए चोट के बाद भी क्रिकेट खेलते रहे। वह बहुत प्रतिस्पर्धात्मक हैं। उन्होंने कभी हार नहीं मानी। वह चोटों से घिरे रहे। फील्डिंग उनके प्रदर्शन का हिस्सा नहीं था। लेकिन जब वो गेंदबाजी के लिए आते थे, जब उनके हाथ में सफेद बॉल होती थी। तब वो बिल्कुल अलग क्रिकेटर नजर आते थे।

उन्होंने आगे कहा,  उनका विदाई समारोह बहुत ही सम्मानजनक था। बहुत खिलाड़ियों की ऐसी किस्मत नहीं रही जिन्हें अपने ही घरेलू मैदान पर आखिरी मैच खेला हो। महान क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर को ये ख्याति हासिल हुई। अब इस लिस्ट में आशीष नेहरा भी है। अच्छा लगता है कि चयनकर्ताओं ने उसपर अपना विश्वास दिखाया। अपने आखिरी मैच में नेहरा ने अच्छी गेंदबाजी की। कोटला में उनकी गेंदबाजी बिल्कुल अलग थी। इससे पहले आशीष नेहरा को सम्मान देते हुए उनके एक पूर्व साथी क्रिकेटर हेमंग बदानी ने अपने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें उन्होंने नेहरा के साथ क्रिकेट खेलते हुए कुछ यादगरों को पलो को साझा किया है। बदानी ने अपने वीडियो में कहा कि मुझे एक घटना याद है जब सौरव गांगुली की कप्तानी में नेहरा ने उनको ना डरने की नसीहत दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *