प्रसव के लिए ली जा सकती हैं महिला आयुष डॉक्टरों की सेवाएं

जबलपुर। महिला आयुष डॉक्टरों की प्राथमिक व उपस्वास्थ्य केन्द्रों में प्रसव कराने में ड्यूटी लगाई जा सकेगी। इसके निर्देश प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण गौरी सिंह ने सभी कलेक्टर्स, विकासखण्ड अधिकारी, मिशन संचालक व आयुक्त स्वास्थ्य संचालकों को जारी किए हैं।

प्रदेश में बढ़ रहे संस्थागत प्रसव के कारण शासन अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी दूर करने पर विचार कर रहा है। इसके लिए आयुष डॉक्टरों की सेवाएं ली जा सकती हैं। प्रमुख सचिव ने आदेश में कहा है कि महिला आयुष डॉक्टरों का उपयोग प्रसव संबंधी कार्यों में लगाया जाए। शासन ने इन आयुष महिला डॉक्टरों को स्किल लैब में प्रशिक्षित किया है और बीएएमएस डिग्री के दौरान इन डॉक्टरों ने इंटर्नशिप भी किया है। इनकी सेवाएं प्रसव के लिए ली जाएंगी।

इसे भी पढ़ें-  एल्गिन अस्पताल में हंगामा-जानें क्‍या है पूरा मामला

आयुष एसोसिएशन ने 2000 महिला आयुष डॉक्टरों की भर्तियों की मांग की है।

डॉ. राकेश पाण्डेय

राष्ट्रीय प्रवक्ता, आयुष मेडिकल एसोसिएशन

Leave a Reply