छिंदवाड़ा अस्पताल में मरीज को चूहों ने कुतरा, पकड़ने के लिए 16 लाख का एस्टीमेट

छिंदवाड़ा (ब्यूरो)। जिला अस्पताल में लंबे समय से चूहों का आंतक बना हुआ है। आए दिन मरीजों को चूहे कुतर रहे हैं। कुछ दिन पहले आईसीसीयू में भर्ती एक महिला को कुतरने के बाद मंगलवार की रात फिर चूहों ने डीवीडी वार्ड में भर्ती एक महिला मरीज एवं उसके परिजन के पैर कुतर दिए।

अब चूहों को पकड़ने के लिए अस्पताल प्रबंधन नागपुर की एक कंपनी को ठेका देने की तैयारी कर रही है। कंपनी के कर्मचारियों ने बुधवार को अस्पताल के सभी वार्डाें में सर्वे भी किया है। प्रबंधन ने चूहे पकड़ने के लिए 16 लाख का स्टीमेट स्वास्थ्य विभाग के आला अफसरों को भेजा है।

जिला अस्पताल की व्यवस्थाएं किसी न किसी बात को लेकर आए दिन चर्चाओं बनी रहती हैं। इन दिनों चूहों के आतंक से मरीज बेहाल हैं। करीब एक पखवाड़े पहले जिला अस्पताल के आईसीयू में भर्ती एक महिला को चूहे ने कुतर दिया था। इस मामले की परिजन ने शिकायत की, जिसकी प्रबंधन ने जांच करवाई।

जांच के बाद अधिकारियों ने वार्ड ब्वॉय की सेवा समाप्त कर दी, वहीं चिकित्सकों को नोटिस जारी कर मामले में औपचारिकता निभा दी। लेकिन चूहे की समस्या से निजात दिलाने के कोई प्रयास नहीं किए। मंगलवार की रात फिर से डीवीडी वार्ड में भर्ती महिला बबली कौर चौहान के हाथ को चूहे ने कुतर दिया। इसके अलावा एक अन्य महिला के परिजन गंगाराम यादव के पैर को भी चूहे ने कुतर दिया।

इनका कहना है

चूहों को पकड़ने के लिए विभागीय स्तर से प्रयास किए जा रहे हैं। चूहों से निपटने के लिए बुधवार को नागपुर की एक कपंनी जो चूहों को पकड़ने का काम करती है, उसके कर्मचारियों ने सर्वे किया है। उसने चूहे पकड़ने के लिए करीब 16 लाख स्र्पए से अधिक का स्टीमेट बनाकर दिया है। इसे स्वीकृति के लिए आला अधिकारियों को भेजा गया है।

एचएस गोगिया, सीएमएचओ, छिंदवाड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *