निबंध लिखकर भेजें ऑनलाइन, मिलेगा पुरस्कार

जबलपुर,यभाप्र। प्रदेश सरकार सभी स्कूली छात्र-छात्राओं के लिए ऑनलाइन निंबध प्रतियोगिताएं आयोजित करा रही है। निबंध प्रतियोगिता के विषय अलग-अलग रखे हैं। जैसे- कैसे बनेगा मध्यप्रदेश श्रेष्ठ प्रदेश, मप्र में सुशासन और भविष्य की चुनौतियां, मप्र में अनछुए पर्यटन स्थल, लाडली लक्ष्मी योजना और लिंग असमानता, लोक सेवा गारंटी कानून 2010 चुनौतियां और समाधान तथा कृषि आय और प्रदेश में भावांतर भुगतान योजना जैसे विषयों में से एक विषय चुनकर छात्रों को 150 शब्दों में निबंध लिखकर प्रविष्टि ऑनलाइन भेजना है। प्राप्त प्रविष्टियों में से पहले, दूसरे और तीसरे विजेता को चुनकर पुरस्कार बांटा जाएगा। जबकि 200 प्रविष्टियों में छात्रों को प्रमाण पत्र भी बांटे जाएंगे। इस प्रतियोगिता में 15 से 20 साल तक के छात्र भाग ले सकते हैं। निबंध प्रतियोगिता का उद्देश्य प्रदेश के बारे में युवा क्या सोचते हैं, यह जानना है। अधिक से अधिक छात्र-छात्राएं अपने विचार निबंध के माध्यम से सरकार के सामने रख सकते हैं। प्रविष्टि भेजने के लिए प्रतिभागी का स्वयं माई गन्वेंट पोर्टल पर रजिस्टर्ड होना जरूरी है। नाम, पते और मोबाइल नंबर के साथ प्रविष्टि मान्य होगी। इसके अलावा शिक्षकों के लिए भी निबंध प्रतियोगिता रखी है जिसका विषय ड्डद्यह्ल147मप्र में माध्यमिक शिक्षा – नवाचार और विकास के आयामज् रखा है। सभी सरकारी और गैर सरकारी शिक्षक निबंध लिखकर भेजकर पुरस्कार प्राप्त कर सकते हैं।
80-100 शब्दों में मांगी कविता, शिक्षकों को भी मौका
साहित्य में रुचि रखने वाले छात्रों के साथ शिक्षकों के लिए भी कविता प्रतियोगिता रखी है। 80 से 100 शब्दों में काव्य रचना तैयार कर ऑनलाइन भेजना है। चयनित होने वाले छात्रों को पांच-पांच हजार का मिलेगा पुरस्कार।
चित्रकला प्रतियोगिता -4 एमबी जेपीजी ईमेज भेज सकेंगे
निबंध के अलावा चित्रकला प्रतियोगिता भी आयोजित की है। सरकारी व प्राइवेट स्कूलों के बच्चे प्रदेश में पर्यटन, रोजगार, शिक्षा, उद्योग, विकास अथवा संस्कृति विषय पर आधारित चित्र बनाकर ऑनलाइन प्रविष्टि 30 नवंबर तक भेज सकते हैं। चित्रकला से संबंधित डिजिटल कॉपी 4 एमबी तक की जेपीजी ईमेल ए-4 साइज लैंड स्कैप में पोर्टल पर अपलोड करना होगी। पेंटिंग वाटर अथवा ऑयल पेंट से बनाना होगी। इसमें भी प्रथम, द्वितीय और तृतीय विजेता को पुरस्कृत किया जाएगा। 200 प्रविष्टियों को प्रमाण पत्र दिया जाएगा। ि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *