छात्रसंघ चुनाव में हिंसा, विरोधियों को धमकाने किए फायर ने ली समर्थक की जान

नीमच। मध्य प्रदेश के छात्रसंघ चुनाव में दो दिनों से छात्र नेताओं में चल रहे टकराव और खूनी संघर्ष में आखिरकार एक छात्र की गोली लगने से मौत हो गई. बताया जा रहा है कि छात्र संगठन से जुड़े एक नेता ने विपक्षी कार्यकर्ताओं को धमकाने के लिए गोली चलाई थी, लेकिन मिस फायर होने से उसके ही समर्थक की मौत हो गई.

मामला मध्य प्रदेश के नीमच जिले के जावद का है

यहां शनिवार देर रात को गोली लगने से राहुल बंजारा नाम के छात्र की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि राहुल बंजारा हिंदू छात्र सेना से जुड़ा हुआ था.

इस हिंदू छात्र सेना का संचालक पटवारी नवीन तिवारी है. सरकारी सेवा में जुड़े होने के बावजूद नवीन तिवारी इस संगठन को संचालित कर रहा है. उसने छात्रसंघ चुनाव में एबीवीपी और एनएसयूआई के खिलाफ दमदारी से अपने उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है.

बताया जा रहा है कि शनिवार रात को नवीन तिवारी ने ही कथित तौर पर विपक्षी उम्मीदवारों को धमकाने के लिए अवैध हथियार से हवाई फायर किया था. हालांकि, हथियार से गोली नहीं निकली और ‘मिस फायर’ हो गया. कुछ देर बाद अचानक नवीन के पास रखे हथियार से गोली चल गई और पास ही खड़े राहुल बंजारा को पेट में जाकर लगी.

नवीन और उसके साथी तुरंत राहुल को नीमच जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

सूत्रों ने बताया कि पुलिस ने नवीन तिवारी को हिरासत में ले लिया है. लेकिन, हाईप्रोफाइल मामला होने की वजह से पुलिस का कोई भी अफसर इस मुद्दे पर बात करने के लिए राजी नहीं है. जांच का हवाला देकर सभी ने चुप्पी साध ली है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *