वैज्ञानिकों ने खोजा ऐसा ग्रह जहां बर्फ की तरह गिरती है ‘सनस्क्रीन’

वाशिंगटन। आपने अब तक बर्फ गिरते देखी या सुनी होगी लेकिन क्या कभी सुना है कि किसी ग्रह से बर्फ की तरह सनस्क्रीन गिरे। यह सच है, नासा के हबल टेलिस्कोप ने एक ऐसा ग्रह खोजा है जिससे बर्फ की तरह सनस्क्रीन गिरती है। हमारे सोलर सिस्टम से बाहर इस एक्सो प्लेनेट का तापमान बेहद ज्यादा है और इसे केपलर-13एबी नाम दिया गया है।

यह अपने सोलर स्टार केपलर-13ए के पास मौजूद है जो धरती से 1730 प्रकाश वर्ष दूर है। इस एक्सो प्लेनेट को लेकर एक स्टडी एस्ट्रोनॉमिकल जर्नल में छपी है। एक अंग्रेजी अखबार की खबर के अनुसार इस एक्सो प्लेनेट का एक हिस्सा हर वक्त चारे की तरफ होता है वहीं दूसरा हिस्सा हमेशा ही अंधकार मे रहता है।

इसके चलते इससे सनस्क्रीन गिरती रहती है। दरअसल यह सनस्क्रीन टायटेनियम ऑक्साइड है जो हमेसा अंधेरे में रहने वाले हिस्से से निकलती है। एस्ट्रोनॉमर्स का मानना है कि दमदार हवाएं टायटेनियम ऑक्साइड को ठंडे हिस्से की तरफ धकेल देती है जहा यह क्रिस्टल में बदल जाता है।

इसके चलते वहां बादलों का निर्माण होता है और बर्फ के रूप में बैठ जाता है। इसका गुरुत्वाकर्षण टायटेनियम ऑक्साइड को ऊपरी वातावरण से ठंडे हिस्से वाले निचले वातावरण में ले आता है। पेनसिल्वेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के रिसर्चर थॉमस बीटी के अनुसार टायटेनियम ऑक्साइड उस वातावरण में उतना नहीं गिरता और उसे गर्म माहौल में पहुंचा दिया जाता है जिसके चलते यह वाष्प में बदल जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *