स्विस पर्यटकों की पिटाई के मामले में पांच गिरफ्तार

लखनऊ। आगरा के फतेहपुर सीकरी में 22 अक्टूबर को विदेशी जोड़े (स्विस युगल) से बदसलूकी व हमले की घटना को लेकर आगरा पुलिस की भूमिका सवालों के घेरे में है। केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के गुरुवार को उप्र सरकार से रिपोर्ट तलब किए जाने के बाद प्रदेश पुलिस मुख्यालय में हलचल है।

डीजीपी सुलखान सिंह ने आरोपियों के खिलाफ तत्काल कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए। डीजीपी के निर्देश पर नींद से जागी आगरा पुलिस ने तत्काल पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया, इनमें चार नाबालिग हैं। गृह विभाग ने आगरा के डीएम-एसएसपी से रिपोर्ट तलब की है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को जब आगरा दौरे पर थे, उसी दौरान स्विस युगल पर पथराव की घटना में लचर पुलिस कार्रवाई को लेकर सवाल खड़े हो गए। इसके बाद डीजीपी ने ट्वीट कर घटना पर खेद जताया और कार्रवाई के कड़े दिशा-निर्देश दिए। तब विदेशी नागरिकों के साथ हुई घटना को लेकर अफसर हरकत में आए। एडीजी अपराध चंद्रप्रकाश का कहना है कि मामले में 100 नंबर पर स्विस नागरिकों से मारपीट की सूचना प्राप्त हुई थी।

स्विस युगल ने घटना की रिपोर्ट दर्ज कराने से इन्कार कर दिया था लेकिन, मामले की गंभीरता को देखते हुए आगरा पुलिस के उपनिरीक्षक पुष्पेंद्र पाल सिंह चौहान की ओर से चार अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मारपीट की धारा में एनसीआर दर्ज कराई गई थी। स्थानीय पुलिस ने घायल विदेशी नागरिकों का उपचार कराया था, जिसके बाद दोनों विदेशी नागरिक स्वेच्छा से अपोलो अस्पताल चले गए थे। जहां मेडिकल परीक्षण में स्विस नागरिक के फ्रैक्चर पाया गया। इस पर 25 अक्टूबर को आगरा पुलिस ने मारपीट की गंभीर धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया था।

एडीजी ने कहा, कराएंगे जांच

स्विस नागरिकों के साथ हुई घटना की सूचना डीजीपी मुख्यालय को देर से दिए जाने की बात को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। एडीजी, (अपराध) का कहना है कि जांच कराई जाएगी। दूसरी ओर आगरा पुलिस की ओर से गुरुवार को एडीजी कानून-व्यवस्था को मामले में अब तक की गई कार्रवाई की रिपोर्ट भेजी गई। पत्र में पूर्व में भी रिपोर्ट भेजे जाने का जिक्र है।

यह थी घटना

क्वेंटिन जर्मी क्लर्क (24) और उनकी मित्र मैरी ड्रोज (24) रविवार दोपहर एक बजे फतेहपुर सीकरी घूमने आए थे। इस दौरान दोनों तेरहा गेट के बाहर खेतों की ओर निकल गए। वहां कुछ युवक क्रिकेट खेल रहे थे। दोनों खेल का आनंद ले रहे थे, तभी युवकों ने उन पर हमला बोल दिया। आरोप है कि पर्यटकों पर पत्थर बरसाने के साथ ही उन्हें डंडों से पीटा गया। इससे क्वेंटिन के सिर और कान के पास, जबकि मैरी ड्रोज के हाथ में चोट लगी थी। खून से लथपथ दोनों पर्यटक काफी देर तक वहां पड़े रहे थे। बाद में कुछ लोगों ने उनको पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। वहां से उन्हें आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। पीड़िता ने पत्थर मारने वालों के फोटो सीकरी पुलिस को दिए थे। इसके आधार पर पुलिस ने पांच आरोपियों की पहचान की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *