न्यूजीलैंड ने भारत के सामने रखा 231 रनों का लक्ष्य

पुणे। न्यूजीलैंड ने बुुधवार को दूसरे वनडे में भारत के सामने चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। न्यूजीलैंड ने निर्धारित 50 अोवरों में 9 विकेट पर 230 रन बनाए।

न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। यह फैसला उस वक्त गलत लगा जब भुवनेश्वर कुमार ने गप्टिल (11) को विकेटकीपर धोनी के हाथों झिलवाया। कप्तान केन विलियम्सन मात्र 3 रन बनाकर बुमराह की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हुए। इसके बाद भुवी ने दूसरा विकेट लिया जब उन्होंने कोलिन मुनरो (10) को बोल्ड किया। 27 रनों पर तीसरा विकेट गंवाने के बाद टेलर और लाथम कीवी पारी को संभालने में जुट गए। इन दोनों ने पिछले मैच में मैच विजयी दोहरी शतकीय भागीदारी की थी।

इसे भी पढ़ें-  एशिया का विजेता बना भारत: मलेशिया को हरा कर जीता फाइनल

टेलर दुर्भाग्यशाली ढंग से आउट हुए जब वे हार्दिक पांड्‍या की लेग स्टंप के बाहर बाउंसर को हुक करने गए और गेंद बल्ले का बाहरी किनारा लेती हुई धोनी के दस्तानों में समा गई। उन्होंने 21 रन बनाए। अब सारी उम्मीदें पिछले मैच के शतकवीर टॉम लाथम पर टिक गई थी, लेकिन वे 38 के निजी स्कोर पर अक्षर पटेल की गेंद को स्वीप करने के चक्कर में बोल्ड हुए। हैनरी निकोल्स 42 रन बनाने के बाद भुवी की गेंद पर बोल्ड हुए।

इसके बाद चहल ने कीवी टीम को लगातार दो झटके दिए। कोलिन डी ग्रैंडहोम (41) ने चहल की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने का प्रयास किया और थर्डमैन पर बुमराह ने कैच लपका। चहल ने अगली ही गेंद पर एडम मिल्ने (0) को एलबीडब्ल्यू किया। टिम साउदी ने उन्हें हैटट्रिक नहीं लेने दी। मिचेल सेंटनर 29 रन बनाकर बुमराह के शिकार बने। इसके बाद टिम साउदी 25 और ट्रेंट बोल्ट 2 रन बनाकर नाबाद रहे। भुवनेश्वर कुमार ने 45 रनों पर 3 विकेट लिए। बुमराह और चहल ने 2-2 विकेट झटके।

इसे भी पढ़ें-  LIVE INDvsSA: लगा सातवां, झटका भारत हार की कगार पर

भारत ने इस मैच के लिए प्लेइंग इलेवन में एक बदलाव कर कुलदीप यादव की जगह अक्षर पटेल को शामिल किया। न्यूजीलैंड ने प्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया।

पहले वनडे मैच में मिली अप्रत्याशित हार के बाद विराट कोहली की टीम इंडिया पर बुधवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे वनडे में ज्यादा दबाव है। पिछली छह द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीत चुकी भारतीय टीम को हालिया समय में अपनी सरजमीं पर ऐसे हालात का सामना कम ही करना पड़ा है जब उसे सीरीज बचाने के लिए करो या मरो का मुकाबला खेलना है।

ज्यादातर क्रिकेट प्रेमियों को उम्मीद नहीं थी कि न्यूजीलैंड टीम वानखेड़े स्टेडियम पर पहले मैच में भारत को हरा देगी लेकिन ऐसा हुआ। अब बुधवार को विराट की टीम तीन वनडे मैचों की सीरीज को जीवंत रखने के लिए उतरेगी। अगर भारत यह मैच हारता है तो न्यूजीलैंड पहली बार उसकी सरजमीं पर वनडे सीरीज जीतेगी।

Leave a Reply