शिवराज ने US में दोहराई अरुण जेटली की बात, कहा-आज का भारत 1962 से अलग है

एक सप्ताह की यात्रा पर अमेरिका पहुंचे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पाकिस्तान और चीन पर जोरदार हमला बोला. चौहान ने कहा कि भारत वैसा नहीं है, जैसा वह वर्ष 1962 में था. साथ ही उन्होंने कहा कि भारत आतंकवाद के मुद्दे पर किसी को नहीं बख्शेगा.

उन्होंने कहा कि भारत अब 1962 वाला देश नहीं रहा और चीन को इस बात का एहसास भी हो गया है. जिसके बलों को भारतीय जवानों की दृढ़ता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में मजबूत भारत के उदय के कारण डोकलाम में पीछे हटना पड़ा.

चौहान ने कहा, आज का भारत 1962 का देश नहीं है. वह यहां भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित एक स्वागत समारोह में भारतीय अमेरिकी समुदाय को संबोधित कर रहे थे. चीन पर उनका बयान डोकलाम गतिरोध के दौरान तत्कालीन रक्षा मंत्री अरुण जेटली द्वारा दिए गए के बयानों की स्पष्ट रूप से याद दिलाता है.

जेटली से जब चीन की इस चेतावनी के बारे में पूछा गया था कि भारतीय सेना को इतिहास से मिले सबक से सीख लेनी चाहिए. तब उन्होंने कहा था, वर्ष 1962 में हालात अलग थे और वर्ष 2017 का भारत अलग है. पाकिस्तान को अप्रत्यक्ष चेतावनी देते हुए चौहान ने कहा कि आतंकवाद पर कोई समझौता नहीं किया जाएगा. पाकिस्तान पर अपनी जमीन पर आतंकवादियों को पनाह देने के आरोप लगते रहे हैं.

उन्होंने कहा, यदि कोई देश आतंकवाद के मुद्दे पर हमें उकसाने की कोशिश करता है तो भारत उसे नहीं बख्शेगा. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि भारत वैश्विक शांति का सबसे बड़ा समर्थक है और दूसरों को उकसाना नहीं चाहता.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *