”रूस खुद तय करे अमरीका से दोस्ती रखेगा या दुश्मनी”

वाशिंगटन: व्हाइट हाऊस ने रूस के दखल को बर्दाशत न किए जाने की बात पर कायम रहते हुए कल कहा कि यह रूस पर निर्भर करता है कि वह अमरीका के साथ कैसे संबंध चाहता है। अमरीका ने कहा कि वह राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर रूस के साथ काम करना जारी रखेगा। साथ ही उन्होंने सीरिया संकट और उत्तर कोरिया के आक्रामक रवैये सहित विभिन्न मुद्दों पर दोनों देशों के साथ मिल काम करने की उम्मीद भी जताई।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारह सैंडर्स ने संवाददाता सम्मेलन में  कहा कि अधिकतर बातें रूस पर निर्भर करती हैं, वह किस तरह का संबंध चाहता है और क्या वह एक अच्छा सहयोगी बनना चाहता है अथवा बुरा। उन्होंने कहा कि हम उनके साथ कुछ बेहद अहम चीजों पर खासतौर पर राष्ट्रीय सुरक्षा पर काम करने का प्रयास जारी रखेंगे।

इसे भी पढ़ें-  इस्लामिक स्टेट ने अपने ही 15 लड़ाकों के काट डाले सिर...

सीरिया, उत्तर कोरिया जैसे खतरों का सामना करने के लिए भी अमरीका उनके साथ काम करना चाहेगा। अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश की टिप्पणी पर पूछे  सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उनमें से कुछ बातें इस बात पर निर्भर करेगी कि रूस क्या कदम उठाता है और कैसे उसे देखना चाहता है। बुश ने इस सप्ताह न्यूयॉर्क में डोनाल्ड ट्रंप का नाम लिए बगैर उनकी अलोचना की थी।

उन्होंने कहा था कि रूसी सरकार ने अमरीकी नागरिकों को एक दूसरे के खिलाफ करने की योजना बनाई है।  रूस का दखल सफल नहीं होगा। साइबर हमला गलत सूचना जैसे विदेशी आक्रमण को न तो कम करके आका जाना चाहिए और न ही बर्दाश्त किया जाना चाहिए। सैंडर्स ने कहा कि ट्रंप प्रशासन स्वीकार करता है कि रूस का दखल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Leave a Reply