मोदी पहुंचे केदारनाथ, कपाट बंद होने के मौके पर गर्भगृह में की पूजा

नई दिल्‍ली। भारतीय सेना के जवानों के साथ दिवाली मनाने के बाद शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ मंदिर पहुंच गए हैं। केदारनाथ धाम के कपाट बंद होने के मौके पर वह शिव की अराधना कर रहे हैं। मोदी को मंदिर के मुख्य पुजारी भागेश रुद्राभिषेक करा रहे हैं।

पीएम मोदी के पहुंचने से पहले केदरनाथ धाम में तैयारियां पूरी हो गई थीं। पीएम की यात्रा से पहले केदारनाथ धाम एसपीजी के हवाले कर दिया गया था। पीएम मोदी के केदारनाथ दौरे को लेकर केदारपुरी में स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) ने मोर्चा संभाल लिया है। मोदी को देखने के लिए भारी भीड़ वहां जमा हो गई है।

डीएम, एसपी समेत जिले के तीन सौ से अधिक अधिकारी व कर्मचारी ड्यूटी के लिए केदारनाथ पहुंच चुके हैं। पूरी केदारपुरी को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। केदारनाथ मंदिर को 10 क्विंटल गेंदे के फूलों से सजाया गया है।

बुधवार को एसपीजी के आईजी एमपी गुप्ता ने केदारनाथ में सुरक्षा तैयारियों का जायजा लेकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। वहीं सेना के हेलीकॉप्टर ने भी बुधवार को ट्रायल उड़ान भरी।

केदारनाथ के कपाट बंद होने से एक दिन पहले 20 अक्टूबर यानि आज पीएम मोदी केदारनाथ पहुंच रहे हैं। प्रधानमंत्री की सुरक्षा में कोई चूक न हो, इसके लिए शासन-प्रशासन एक सप्ताह से तैयारी में जुटा हुआ है। बुधवार को आइजी (एसपीजी) एमपी गुप्ता ने सुरक्षा तैयारियों का जायजा लिया और अधिकारियों के साथ ही सुरक्षा व्यवस्था में तैनात सभी अधिकारियों व जवानों की ब्रीफ्रिंग की। इसके साथ ही उन्होंने एमआइ-17 हेलीकॉप्टर की ट्रायल लैंडिंग का भी निरीक्षण किया।

आईजी ने सभी अधिकारियों और जवानों को प्रधानमंत्री की सुरक्षा व्यवस्था में पूरी तरह सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। इस मौके पर जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने आइजी एसपीजी को सभी व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने प्रधानमंत्री के लिए बनाए गए सेफ हाउस, पैदल मार्ग पर बेरीकेडिंग की स्थिति, विश्राम कक्ष के साथ ही जलपान व भोजन की व्यवस्था की भी पूरी जानकारी दी।

बॉर्डर पर जवानों संग मनाई दिवाली

प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने जवानों के साथ दिवाली मनाई। मोदी ने जम्मू-कश्मीर के गुरेज सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर तैनात सैनिकों के साथ दिवाली मनाई और जवानों के त्याग एवं बलिदान की सराहना करते हुए कहा कि वह उनको अपना परिवार मानते हैं। प्रधानमंत्री नियंत्रण रेखा पर तैनात सेना और बीएसएसफ जवानों के साथ दीपावली मनाने सुबह गुरेज पहुंचे, उनकी यह यात्रा पूर्व घोषित नहीं थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *