LIVE: विपक्ष को अपने साथियों की परीक्षा लेनी है तो कम से कम सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव तो न लाईए- मोदी

नई दिल्ली। मतदान से ठीक पहले पीएम मोदी विपक्ष के सवालों का जवाब दे रहे हैं।पीएम मोदी ने कहा कि आज देश ने विपक्ष की नकारात्‍मकता देखी है। यह कैसी नकारात्‍मकता है,कैसा विरोध का भाव है, न बहुमत, न नंबर फिर भी अविश्‍वास प्रस्‍ताव आया।

उन्होंने कहा कि यह सरकार का फ्लोर टेस्ट नहीं बल्कि विपक्ष का फ्लोर टेस्ट है। विपक्ष अपने कुनबे को बिखेरने से रोकना चाहता है। उन्होंने कहा कि यदि विपक्ष को अपने साथियों की परीक्षा लेनी है तो कम से कम सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव तो न लाईए। हम यहां सवा सौ करोड़ देशवासियों के आशीर्वाद से आए हैं।

पीएम मोदी के अभिभाषण के दौरान विपक्ष का हंगामा जारी है। उन्होंने पिछले चार सालों में किए गए विकास कार्यों को सदन के समक्ष प्रस्तुत किया। पीएम ने बेटी-बढ़ाओ, बेटी पढ़ाओ, विद्युतीकरण योजना, यूरिया में नीम कोटिंग, एमएसपी बढ़ाने, जनधन खाता, और ऑनलाइन सेवाओं का विशेष उल्लेख किया।

इसे भी पढ़ें-  शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने कहा-राम मंदिर के विरोधी भारत मां के गद्दार

उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया, जीएसटी से भारतीय इकोनामी को फायदा हो रहा है। भारत छठवें नंबर की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। हम 5 बिलियन की इकोनामी बनने की दिशा में बढ़ रहे हैं। काले धन के खिलाफ हमारी लड़ाई रुकने वाली नहीं है।

उन्होंने कहा कि हमने टेक्नोलॉजी के उपयोग से भ्रष्टाचार को कम किया। हम शेल कंपनियों के खिलाफ काम कर रहे हैं। बेनामी संपत्ति कानून को लेकर विपक्ष पर तंज करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वो कौन लोग थे जो इस कानून का विरोध कर रहे थे।

अंतरराष्ट्रीय जगत में भारत के बढ़ते गौरव पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को अपने पर विश्वास नहीं है इसलिए वह ईवीएम, चुनाव आयोग, योग दिवस, स्वच्छ भारत अभियान किसी पर विश्वास नहीं करते हैं।

इसे भी पढ़ें-  रामलीला मैदान में महाराष्ट्र के CM फडणवीस पर फेंका जूता

उन्होंने डोकलाम पर बोलत हुए कहा कि जिस बात की जानकारी न हो उस पर बोलने से पहले उसे समझना चाहिए। पीएम ने कहा कि जब सारा देश डोकलाम को लेकर एक थी तब विपक्ष के लोग उनके साथ बैठे थे। कोई कहता था कि वो चीनी राजदूत से मिले कोई कहता था कि नहीं मिले। लेकिन, चीनी राजदूत की तरफ से आए प्रेस रिलीज से यह बात साफ हो गई की इनकी मुलाकात हुई थी।

Humko toh apni baat kehne ka mauka mil hi raha hai par desh ko yeh bhi dekhne ko mila hai ki kaisi nakaratmak rajneeti ne kuch logon ko gher ke rakha hua hai, kaise vikaas ke prati virodh ka bhaav hai: PM Narendra Modi in Lok Sabha pic.twitter.com/GtCy8ge3g5

इसे भी पढ़ें-  मोदी लहर हुई फीकी, राहुल देश का नेतृत्व करने में सक्षमः शिवसेना

इससे पहले अविश्वास प्रस्ताव पर टीएमसी सांसद दिनेश त्रिवेदी ने केंद्र सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि, “हमारी पार्टी और नेता ममता बनर्जी टीडीपी और आंध्र प्रदेश की जनता के साथ हैं। उन्होंने सरकार पर चुटकी लेते हुए कहा कि, आज क्या स्थिति हो गई है कि बीजेपी के सहयोगी रह चुकी टीडीपी को सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाना पड़ रहा है।”

Leave a Reply