पांच नाबालिग छात्रों का अपहरण, वैन सवारों की तलाश

इंदौर। खुड़ैल थाना क्षेत्र से बुधवार शाम पांच नाबालिग छात्रों के अपहरण से सनसनी फैल गई। एक ग्रामीण ने बताया कि बच्चों को वैन सवार उठाकर ले गए हैं। लोगों ने पीछा भी किया, लेकिन बदमाश इंदौर की ओर भाग गए। पुलिस को शक है कि बच्चों को गांव में रहने वाला नाबालिग ही लेकर भागा है।

टीआई अनिल यादव के मुताबिक, घटना बुधवार शाम करीब पांच बजे की है। तिल्लौर बुजुर्ग निवासी गोलू (14) पिता कमल ओसारिया, सुधीर (10) पिता विष्णु, प्रियांशु (14) पिता रामनारायण भावर, अमन (14) पिता लालसिंह कोरी और अमन (16) पिता गुलाबसिंह पारगी गांव से लापता हो गए। देर शाम परिजन चौकी (कंपेल) पहुंचे और बताया कि सेवा सहकारी संस्था के अध्यक्ष सूरजसिंह दांगी ने उन्हें वैन में बैठते हुए देखा था।

इसे भी पढ़ें-  झांसा देकर 2 साल तक करता रहा दुष्कर्म, तांत्रिक मुंह से उड़ाता था हजार और पांच सौ के नोट

वैन सवार बच्चों का अपहरण कर ले गए है। रातभर पुलिस और परिजन बच्चों की तलाश में जुटे रहे। गुरुवार सुबह पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज कर लिया। एसआई वीरेंद्रसिंह सिकरवार के मुताबिक, कुछ दिन पूर्व भी दो बच्चे गायब हुए थे। कुछ दिन बाद लौट आए थे। पूछताछ में उन्होंने बताया कि गांव में रहने वाला 16 वर्षीय किशोर लेकर गया था। उन्होंने भोपाल स्थित ढाबे पर काम किया और वापस घर आ गए। शक है बच्चों को किशोर बहला-फुसलाकर ले गया है।

वैन आकर रुकी, बच्चों को बैठाया और भागे बदमाश

पूर्व सरपंच महेश दांगी के मुताबिक, घटना शिप्रा टेकरी के समीप की है। प्रत्यक्षदर्शी सूरजसिंह ने बताया कि वह गांव की ओर लौट रहे थे। तभी एक वैन आकर रुकी और बच्चों को उसमें बैठा लिया। वैन इंदौर की ओर लेकर भाग गए। जैसे ही गांव में बच्चों के अपहरण की खबर फैली, हड़कंप मच गया। शक है बच्चों को बदमाशों ने अगवा किया है। पुलिस वैन और संदेही किशोर की तलाश कर रही है।

Leave a Reply