जिला प्रशासन ने तोडा दुष्कर्मी का अवैध मकान, निगम जब्त कर ले गया सामान

ग्वालियर। बच्चियों के साथ हैवानियत दिखाने वालों के लिए समाज में कोई जगह नहीं है। बुधवार को जिला प्रशासन की टीम ने परी (परिवर्तित नाम) के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने वाले आरोपी जितेंद्र कुशवाह का आमखो पहाड़ी पर बना मकान तोड़ दिया। निगम अमले ने जेसीबी से कुछ ही घंटो में चारदीवारी तोड़ टीन शेड धराशायी कर दिया। मकान में मिले सामान को प्रशासन ने जब्त कर लिया है। मदाखलत अमले और टीम को देख पहाड़ी व आसपास के लोगों में दहशत फैल गई कि कहीं प्रशासन पूरे मकान तोड़ने तो नहीं आया।

आरोपी का मकान तोड़ने की कार्रवाई शांतिपूर्ण ढंग से पूरी हुई। तहसीलदार भूपेंद्र सिंह कुशवाह ने बताया कि आमखो पहाड़िया पर बसे मकान आयुर्वेद कॉलेज की जमीन पर हैं। नगर निगम को यहां बने 160 आवासों को हटाने के लिए पत्र भेजा गया है, पत्र में पूछा गया है कि यहां रहने वाले कितने लोगों को सरकार की आवास योजनाओं में शामिल किया गया है।

इसे भी पढ़ें-  पुलिस विभाग में बडा फेरबदल 226 निरीक्षकों के तबादले, देखें सूची

जवाब आने के बाद आवास हटाने की कार्रवाई की जाएगी। 6 साल की मासूम से हैवानियत की घटना के बाद समाज के लोगों में आक्रोश बरकरार है। घटना के फौरन बाद आसपास के लोगों ने आरोपी जितेंद्र का मकान तोड़ने की मांग की थी और उसके ठेले को भी आग के हवाले कर दिया था। जगह-जगह कैंडल मार्च और श्रद्धांजलि सभाओं का आयोजन किया गया। कार्रवाई के दौरान पर्याप्त पुलिस फोर्स मौजूद था, यह कार्रवाई तीन घंटे में पूरी की गई।

आरोपी का आवास तोड़ा –

मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या के आरोपी जितेंद्र कुशवाह का मकान बुधवार को तोड़ दिया। ऐसा घिनौना कृत्य करने वालों को संदेश देने के लिए भी यह कार्रवाई की गई। शेष अवैध आवासों पर जल्द कार्रवाई होगी।

Leave a Reply