कुठला और शाहनगर थाने के स्टाफ में हुई मारपीट

कटनी। दो थानों की सीमा को लेकर हुए विवाद के चलते आज सुबह कटनी जिले के कुठला थाना और पड़ोसी पन्ना जिले के शाहनगर थाना में पदस्थ पुलिस कर्मियों के बीच पहले नोंक-झोंक और फिर मारपीट हो गई। पुलिस कर्मियों के बीच मारपीट की खबर मिलते ही पुलिस महकमे में हडकंप मच गया। आला अधिकारी सक्रिय हो गये।

मवेशियों से भरा ट्रक पकड़े जाने पर थाने की सीमा को लेकर हुआ था विवाद

बाद में किसी तरह मामले को शांत किया गया। किसी भी अधिकारी कर्मचारी पर खबर लिखे जाने तक किसी भी प्रकार की विभागीय कार्यवाही किये जाने की खबर नहीं है।
सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार विवाद आज सुबह इंद्रानगर बायपास पर गौवंश मवेशीयों को लेकर जा रहे एक ट्रक के पकडे जाने के बाद शुरू हुआ था। ट्रक शाहनगर से मवेशी लेकर हरियाणा के लिए रवाना हुआ था।

इसे भी पढ़ें-  दुगाडी नाला निर्माण : हस्ताक्षर अभियान चलाकर जताया विरोध

जिसे सुबह 5 बजे इंद्रानगर बायपास के समीप कुठला थाने में पदस्थ आरक्षकों ने रोक लिया। बताया गया कि इस घटना की जानकारी मिलने के बाद पड़ोसी पन्ना जिले के शाहनगर थाना प्रभारी रामेश्वर प्रसाद मौके पर पहुंच गए जहां उनका कुठला थाने के आरक्षकों से विवाद हो गया। यह भी बताया जा रहा कि शाहनगर थाना प्रभारी ने कुठला थाने के एक आरक्षक के साथ झूमा झटकी करते हुए उसकी वर्दी में लगे पुलिस बैच को तोड़ दिया जिससे आक्रोशित होकर कुठला थाने के आरक्षकों ने शाहनगर थाना प्रभारी की पिटाई कर दी।

सुबह सवेरे दो थानों के पुलिसकर्मियों के बीच मारपीट की खबर तत्काल ही दोनों जिलों के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों तक पहुंच गई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार लाल एवं नगर पुलिस अधीक्षक विजय प्रताप सिंह कुठला थाना पहुंच गए। माधवनगर थाना प्रभारी मंजीत सिंह भी कुठला थाना बुलवा लिये गए जबक कुठला थाना प्रभारी समरजीत सिंह परिहार, थाने में मौजूद थे।

इसे भी पढ़ें-  गौरव राजपूत कैट से भी जीते, प्रमोशन का रास्ता साफ

कटनी के पुलिस अधिकारियों ने पन्ना जिले के पुलिस अधिकारियों से भी इस संबंध में चर्चा की है। बताया गया कि मवेशियों से भरे जिस ट्रक को लेकर विवाद शुरू हुआ था उसमें लगभग आधा सैकड़ा गौवंशीय मवेशी थे जिन्हें शाहनगर से हरियाणा ले जाया जा रहा था। बहरहाल इस मामले में पुलिस अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे। आपसी सुलह समझौते से इस मामले का निपटारा किये जाने के प्रयास हो रहे।

Leave a Reply