प्रिंस मर्डर केस: आरोपी भोलू की जमानत याचिका खारिज

पिछली सुनवाई के दौरान जस्टिस दया चौधरी की कोर्ट में CBI के वकील ने जमानत का पुरजोर विरोध किया था.

नई दिलली। गुरुग्राम में एक नामी स्कूल में प्रिंस नामक छात्र की हत्या में आरोपित भोलू की जमानत याचिका हाईकोर्ट ने खारिज कर दी है. कोर्ट ने आरोपी भोलू को जमानत देने से इंकार कर दिया है।
पिछली सुनवाई के दौरान जस्टिस दया चौधरी की कोर्ट में CBI के वकील ने जमानत का पुरजोर विरोध किया था. इस पर भोलू के वकील ने कहा, की CBI ने 60 दिन के अंदर चालान पेश करना था लेकिन 90 दिन लगा दिये, जबकि CBI के वकील ने कहा कि चालान 90 दिन के दाखिल करना था जो कर दिया गया था.

इसे भी पढ़ें-  शिक्षक को रोज लेनी होगी टॉयलेट के साथ सेल्फी

बता दें कि सात साल के मासूम प्रिंस की हत्या के 8 महीने बाद गुरुग्राम सेशन कोर्ट ने 21 मई को फैसला दिया था कि 16 वर्षीय आरोपी भोलू को बालिग मानकर उसके खिलाफ केस चलाया है. इसके अलावा कोर्ट ने इस मामले में तीनों याचिकाओं को खारिज कर दिया है.

कोर्ट में तीन याचिकाएं दायर की गई थीं जिसमें पहली याचिका आरोपी को बालिग या नाबालिग मानकर फैसला सुनाने, दूसरी आरोपी के फिंगर प्रिंट और तीसरी सीबीआई की ओर से आरोपी से ज्यादा पूछताछ करने को लेकर थी. ये तीनों याचिकाएं आरोपी पक्ष ने सेशन कोर्ट में डाली थी जिन पर कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए इसे खारिज कर दिया था.

इसे भी पढ़ें-  Supreme Court of India- अभिव्यक्ति की आजादी पर रोक को लेकर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय

Leave a Reply