दो दिन होगा पुष्य नक्षत्र, दीपावली पर त्रिग्रही योग

धर्म डेस्‍क । इस बार दीपावली पर त्रिग्रही योग बन रहा है। सूर्य, बुध और गुरु एक साथ तुला राशि में गोचर करेंगे। साथ ही बुधादित्य योग से त्रिग्रही योग बन रहा है। इससे ऐश्वर्य-वैभव बढ़ेगा, धन धान्य में वृद्धि होगी। 13 अक्टूबर से सर्वार्थ सिद्धी योग शुरू होकर 14 अक्टूबर तक रहेगा। यानी पुष्य नक्षत्र दो दिन रहेगा। शुक्रवार को बाजार से सौंदर्य प्रसाधन की सामग्री व शनिवार को सोना, वाहनों आदि की खरीदी शुभ रहेगी।

ज्योतिषियों के अनुसार 13 अक्टूबर की सुबह 7.45 बजे पुष्य नक्षत्र लग जाएगा। चूंकि इस दिन शुक्रवार है इसलिए यह शुक्र पुष्य कहलाएगा। शुक्र सौंदर्य का कारक ग्रह माना जाता है। इस कारण इस संयोग में लोग सौंदर्य यानी घर की सजावट से जुड़ी टेबल, सोफा, बेड, नए कपड़े, पर्दे, वंदनवार, रंगोली, बर्तन व इलेक्ट्रॉनिक आयटम आदि खरीद सकते हैं।

पुष्य नक्षत्र 14 अक्टूबर की सुबह 7 बजे यानी सूर्योदय के बाद तक रहेगा। इसलिए यह पूरे दिन मान्य होगा। इस दिन शनिवार होने से यह शनि पुष्य कहलाएगा। पुष्य के स्वामी बृहस्पति और उपस्वामी शनि है।

इनकी भी खरीदी मानी जाती है शुभ

पुष्य नक्षत्र के दिन बही-खाते और पेन आदि खरीदकर व्यापारिक प्रतिष्ठान में रखते हैं, साथ ही सोने-चांदी के आभूषण भी खरीदते हैं।

ये तिथियां भी महत्वपूर्ण

-17 को धनतरेस, प्रदोष व्रत

-18 को सर्वार्थ सिद्धी योग, रूप चतुर्दशी

-19 को दीपावली, स्नान, दान अमावस्या, चंद्रमा का तुला राशि में प्रवेश

-20 को गोवर्धन पूजा

-21 को सर्वार्थ सिद्धी योग, त्रिपुष्कर योग में भाई दूज मनाई जाएगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *