अब ट्रेन के पायलेट को नहीं उठाना होगा बॉक्स, बैग देने की तैयारी में रेलवे

जबलपुर। रेलवे ने ट्रेन चलाने के दौरान लोको पायलेट को दिए जाने वाले भारी भरकम बॉक्स खत्म करने की तैयारी कर ली है। ट्रेन संचालन के दौरान लोको पायलेट और सहायक लोको पायलेट को अब लाइन बॉक्स की जगह बैग दिया जाएगा। बैग में टूल्स के अलावा ट्रेन संचालन से जुड़ी नियमावली और झंडियां रहेंगी। रेल मंत्रालय द्वारा यह आदेश जारी किया गया है कि अब लोको पायलेट, सहायक लोको पायलेट और गार्ड को बैग दिए जाएं। रेलवे के लाइन बॉक्स को ट्रेन में रखने और उतारने में कई कर्मचारी लगते हैं। इसमें रेलवे का रुपया खर्च होता है। कई स्टेशनों पर लाइन बॉक्स रखने की जि मेदारी ठेके पर दे रखी है। ग्वालियर स्टेशन पर यह काम पॉइंटमैन के भरोसे है। कई बार पाइंटमैन समय पर बॉक्स नहीं पहुंचा पाते, ऐसे में ट्रेन समय पर रवाना नहीं हो पाती। रेलवे पायलेट और गार्ड का कहना है कि बैग देने से खान-पान की सामग्री ले जाने में परेशानी का सामना करना पड़ेगा। बैग में सारे टूल्स और ट्रेन संचालन से जुड़ी सारी सामग्री नहीं आ सकेंगी।
कर्मचारियों को मिलेगी विशेष छुट्टी: रेलवे कर्मचारियों का तनाव कम हो सके, इसे लेकर कर्मचारियों को 9 दिन की विशेष छुट्टी दी जाएगी। इस छुट्टी के दौरान रेलवे कर्मचारी मेडिटेशन, योग व अन्य आध्यात्मिक कार्यक्रमों में जा सकेंगे। इन छुट्टियों को रेलवे ने स्पेशल कैजुअल लीव का नाम दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *