​राज्यपाल आनंदी बेन ने जबलपुर में कहा-हमेशा शिकायत करने वाले नहीं कर सकते विकास

जबलपुर। मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल गुरुवार को जबलपुर पहुंची। जहां जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में शामिल हुई। उसके बाद नाना जी देश मुख पशु चिकित्सा विश्वविद्यालय में लगी प्रदर्शनी का अवलोकन किया। पत्रकारों से बात करते हुए राज्यपाल ने कहा की प्रधानमंत्री जी का सपना है की 2022 तक किसान के साथ सभी लोगों की आय दुगनी हो। मैने यहां मौजूद किसानों से बातचीत की तो उन्होंने बताया कि हम किसानी के साथ पशु भी पाल रहे हैं जिस से मेरी आय तिगुनी हो गई है। राज्यपाल ने कहा की जो दिल से काम करता है उसको सफलता मिलती है जो मन में सदैव शिकायत रखता है वो असफ़ल होता है। वही जब राज्यपाल से देश में आरक्षण को ले कर चल आंदोलन पर सवाल किया तो उन्होंने चुप्पी साध कर इस पर कुछ भी बोलने से मना कर दिया और आगे निकल पड़ी।

अलग है अंदाज 
मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल अपने बेबाक बयानों के लिए जानी जाती है वो पहली राज्यपाल थी जिन्होंने राज्यपाल बनने के बाद गुजरात से मध्यप्रदेश तक का सफर बस से तय किया था और उसके बाद जगह जगह सब से मिलती हुई राज्यभवन पहुँच कर राज्यपाल पद की शपथ ली थी। ये वो राज्यपाल है जो राज्यभवन में रुक कर नही सड़को पर आ कर काम करती हैं और योजनाओं का किस तरह संचालन किया जाए उस पर भी नजर रखती हैं। प्रधानमंत्री मोदी के स्वच्छ भारत के सपने को साकार करने के लिए वे राज्यभवन से निकल कर सड़क पर झाड़ू थाम कर आ गयी थी और लोगों से स्वच्छता की अपील की थी।
इसे भी पढ़ें-  15वां महर्षि पत्रकारिता सम्मान समारोह 12 को

Leave a Reply