पिता ने कहा- मंत्री रामपाल प्रीति को दें अपनी बहू का दर्जा

रायसेन। उदयपुरा निवासी प्रीति रघुवंशी की खुदकुशी के मामले में उसके पिता चंदन सिंह रघुवंशी ने कहा कि मंत्री रामपाल सिंह उसे अपनी बहू का दर्जा दें। उनका कहना है कि बेटी ने मंत्री के बेटे गिरजेश से आर्य समाज के मंदिर में शादी की थी। रविवार सुबह प्रीति के पोस्टमार्टम से पहले उन्होंने अपने बयान में कहा कि अगर मेरी बेटी को न्याय नहीं मिला तो वे और उनकी पत्नी भी जान दे देंगे। उधर रघुवंशी समाज ने अस्पताल के बाहर ही पंचायत की और पीड़ि‍त परिवार का साथ देने की बात कही है। उनका कहना है कि हम अस्पताल से डेड बॉडी नहीं लेंगे, मंत्री और उनका लड़का ही प्रीती को लेकर जाए।

इसे भी पढ़ें-  Opinion poll: MP में फिर बनेगी भाजपा सरकार, शिवराज सबसे पंसदीदा CM

समाज के लोगों को कहना है कि अगर परिवार को न्याय नहीं मिला तो वे चक्काजाम कर मंत्री को बर्खास्त करने की मांग करेंगे साथ ही उसके पुत्र को भी गिरफ्तार करने की मांग करेंगे। इस दौरान प्रीति रघुवंशी के परिवार ने अपना ज्ञापन सिलवानी एसडीएम अनिल कुमार जैन और एसडीओपी को दिया।

यह है पूरा मामला

प्रीति ने शनिवार सुबह अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। परिजनों ने आरोप लगाया कि प्रीति मप्र के लोक निर्माण मंत्री रामपाल सिंह की बहू थी और उसने 20 जून 2017 में भोपाल में आर्य समाज मंदिर में उनके मझले बेटे गिरजेश से शादी की थी। परिजन ने प्रीति की आत्महत्या की वजह गिरजेश की शादी कहीं और तय हो जाना बताया। इस पर मंत्री रामपाल सिंह का कहना है लड़की सुसाइड नोट छोड़ गई है, पुलिस उसकी जांच कर रही है।

इसे भी पढ़ें-  21 दिन में सुनवाई: इंदौर, मासूम के साथ दुष्कर्म और हत्या मामला, आरोपी को दोहरी फांसी की सजा

चंदन सिंह रघुवंशी के मुताबिक मंत्री और उनका परिवार इस शादी से खुश नहीं था। परिवार की नाराजगी के बाद गिरजेश और प्रीति के रिश्तों में भी दूरी आ गई थी। गिरजेश के परिजन ने हाल ही में उसका रिश्ता सागर के पास कहीं तय कर दिया था। इसकी जानकारी मिलने पर प्रीति अवसाद में चली गई थी। शुक्रवार रात खाना खाने के बाद प्रीति अपने कमरे में सोने गई थी। सुबह परिजन उसे उठाने गए तो वह फंदे पर लटकी मिली। उधर, पुलिस को प्रीति का सुसाइड नोट मिला है। इसमें प्रीति ने अपनी गलती के लिए परिजन से माफी मांगी है।

इसे भी पढ़ें-  PM के आगमन से पहले एक्सन में CM वीडियो कांफ्रेंसिंग में कटनी सहित 6 जिलों के कलेक्टरों को फटकार

Leave a Reply