संविदा कर्मचारियों की हड़ताल से चरमराई स्वास्थ्य सेवाएं

भोपाल। मध्यप्रदेश में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों की हड़ताल के पहले दिन स्वास्थ्य सेवाओं पर खासा असर देखने को मिला।

हड़ताल की वजह से टीबी की जांच, दवा के वितरण समेत दूसरे प्रशासनिक कामकाज ठप रहे. साथ ही वार्ड स्तर पर खुले गए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर भी असर पड़ा

दरअसल, जेपी अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मचारियों ने अपनी दो सूत्रीय मांगों को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. स्वास्थ्य कर्मचारियों की दो मुख्य मांगे हैं, जिसमें पहली नियमितीकरण और दूसरी दो साल पहले निलंबित किए गए स्वास्थ्य कर्मचारियों को वापस लेने की मांग शामिल है.

मंगलवार को भी अपनी मांग को लेकर सभी कर्मचारी काला दिवस मानते हुए नीलम पार्क प्रदर्शन करेंगे. भोपाल में आठ सौ स्वास्थ्य कर्मचारी है, जबकि प्रदेशभर में इनकी संख्या उन्नीस हजार है.

Leave a Reply