अब शक्कर बन गई नई तंबाकू, जानिए ऐसा क्यों

हैदराबाद। शक्कर अब एक नई तंबाकू के रूप में सामने आई है जो कि भारत में दिल के दौरे का कारण बन रही है। डॉक्टरों के मुताबिक, पेय पदार्थों, जंक फूड और बेकरी आइटम्स के रूप में शक्कर की खपत से मोटापे का स्तर बढ़ रहा है, जिससे हृदय रोग हो रहे हैं।

एक सीनियर कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. सुनील कपूर ने कहा, ‘हमारे पास शक्कर की खपत की समस्या है जिसके कारण मोटापे और सामान्य आबादी में टाइप 2 डायबिटीज में 25 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। लाइफस्टाइल के कारण मोटे व्यक्तियों को डायबिटीज हो रही है, वहीं सामान्य व्यक्ति आनुवांशिकी और शक्कर की वृद्धि की वजह से इसकी पकड़ में हैं। उच्च मात्रा में शक्कर की खपत के बारे में सोचने की जरूरत है।’

पेय पदार्थों की नियमित खपत, कॉन्सन्ट्रेटेड ज्यूस और कोला शरीर पर असर डाल रहे हैं और इससे शक्कर के स्तर में वृद्धि हो रही है। हाल के अध्ययनों से पता चला है कि हर अतिरिक्त 150 शुगर कैलोरी टाइप 2 डायबिटीज के प्रसार को 11 गुना बढ़ाती है। छिपी हुई शक्कर के साथ प्रोसेस फूज पर निर्भरता को भी इसका दोषी ठहराया जाना चाहिए।

एक सीनियर कंसल्टेंट एंडोक्रिनोलॉजिस्ट डॉ. रवि संकर इरुकुलाईपति ने कहा, ‘भोजन की आदतों को बदलने से प्रोसेस फूड्स और कार्बोनेटेड ड्रिंक्स रोजाना डाइट का हिस्सा बन गए है। अधिकांश भारतीयों को खबर ही नहीं है कि वे कितनी शक्कर की खपत कर रहे हैं। इसके कारण, कम उम्र में ही मोटापा, डायबिटीज और दिल की बीमारियों का ट्रिपल कॉम्बिनेशन देखने का मिल रहा है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *